सैंकड़ों लावारिस कोरोना पॉजिटिव मृतकों का अलेक्जेंडर ने किया था अंतिम संस्कार, अब राष्ट्रपति करेंगे सम्मानित

5/15/2022 7:17:55 PM

जगदलपुर(सुमित सेंगर): उत्कृष्ट समाज सेवा करने वाले जिला रेडक्रॉस के उपाध्यक्ष अलेक्जेंडर का चयन रेड क्रॉस के सर्वोच्च अवार्ड के लिए हुआ है। उन्हें रेड क्रॉस एजीएम का सर्वोच्च पुरस्कार इंडियन रेड क्रॉस मेरिट सर्टिफिकेट के लिए चुना गया है। यह अवार्ड खुद राष्ट्रपति उन्हें देंगे। गौरतलब है कि कोरोना काल के दौरान सैकड़ों मृतकों का अंतिम संस्कार अलेक्जेंडर ने किया था। अलेक्जेंडर रेड क्रॉस के जरिए गरीब और जरूरतमंद मरीजों का मुफ्त में इलाज करवाने के नाम पर जाने जाते हैं और कई लोग उन्हें इलाज वाले बाबा भी कहते हैं।

पूरे देश में इस अवार्ड के लिए 6 लोगों को चुना गया है। इन छह में भी बस्तर के अलेक्जेंडर का नाम टॉप पर है यह अवार्ड सेवा भाव से किए गए कार्यों के लिए दिया जाता है। इस बार यह अवार्ड अलेक्जेंडर को कोरोना काल में रेड क्रॉस के बैनर तले लोगों की बेहतर मदद, कोरोना पॉजिटिव मृतकों के शवों के अंतिम संस्कार से लेकर उन्हें घर तक पहुंचाने सहित कोविड के दौरान किए गए अन्य कामों के लिए दिया जा रहा है। इससे पहले भी अलेक्जेंडर को राज्य स्तर पर रेड क्रॉस के बैनर तले बेहतर काम करने के लिए राज्यपाल के हाथों अवार्ड मिल चुका है।

बस्तर जिला कलेक्टर और रेड क्रॉस अध्यक्ष रजत बंसल ने रेड क्रॉस के सदस्य एलेग्जेंडर को सर्वोच्च अवार्ड दिए जाने पर खुशी जाहिर की है। बस्तर कलेक्टर ने कहा कोरोना काल के दौरान मृतकों के दाह संस्कार के लिए कई एजेंसी हाथ पीछे खींच रही थी, ऐसे में रेडक्रॉस सोसाइटी के द्वारा आगे बढ़कर समाज सेवा करते हुए मिसाल गड़ी गई कोविड पॉजिटिव मरीजों के 437 शव रेड क्रॉस सोसाइटी के पास दाह संस्कार के लिए पहुंचे थे। इनमें से 267 शवों का अंतिम संस्कार खुद एलेग्जेंडर ने खड़े रहकर करवाया। इसके अलावा बाकी शवों को उनके गृह ग्राम तक सुरक्षित पहुंचाने में मदद की और खुद मरीजों को घर से हॉस्पिटल पहुंचाने में भी बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News