कंप्यूटर बाबा ने शिवराज को बताया कोरोना से भी खतरनाक, बोले- इनके पास बैठना भी खतरनाक

9/28/2020 5:32:42 PM

खंडवा(निशात सिद्दीकी): मध्य प्रदेश में होने वाले उपचुनाव को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच जंग जारी है। इस जंग में अब कंप्यूटर बाबा संत-समाज के साथ कूद पड़े हैं। कम्प्यूटर बाबा ने मुख्यमंत्री की तुलना कोरोना से करते हुए शिवराज को कोरोना महामारी कह दिया।  कंप्यूटर बाबा ने शिवराज को झूठा और घोषणावीर बताते हुआ कहा कि समय बताएगा कि आनेवाले समय में कौन सत्ता में होगा। कंप्यूटर बाबा ने संत समाज के साथ शिवराज सरकार के खिलाफ लोकतंत्र बचाओ यात्रा शुरू की हैं। उपचुनाव को धर्म और अधर्म की लड़ाई बताते हुए बाबा उन 25 विधानसभाओं में पहुंचकर चौपाल कार्यक्रम करेंगे, जहां पर कांग्रेस के विधायक भाजपा में शामिल हुए हैं। बाबा की लोकतंत्र बचाओ यात्रा खंडवा के मान्धाता विधानसभा पहुंची थी जहां उन्होंने शिवराज और भाजपा में शामिल होने वाले कांग्रेस के पूर्व विधायक पर जमकर आरोप लगाए।  

PunjabKesari

लोकतंत्र बचाओ, संविधान की रक्षा करो यात्रा लेकर निकले कम्प्यूटर बाबा ने मांधाता विधानसभा के पुनासा और मुंदी में सभा करी। उन्होंने कहा कि जनता ने कमलनाथ की कांग्रेस सरकार को 5 साल के लिए चुना था। 15 साल सत्ता में रही भाजपा और शिवराज को जनता का फैसला रास नहीं आया। सिंधिया ने सांसद और मंत्री पद के लालच में 25 गद्दारों की बलि देकर कमलनाथ सरकार गिरा दी। इन गद्दारों ने शिवराज से करोड़ों रुपए लेकर इस्तीफा दिया और शिवराज करोड़ों रुपए देकर फिर मुख्यमंत्री बन गए। 

PunjabKesari

कंप्यूटर बाबा से जब पूछा गया कि वह सीएम शिवराज से बैठ कर बात क्यों नहीं करते तो उन्होंने शिवराज को ही कोरोना महामारी बताते हुए कहा कि शिवराज कोरोना मुख्यमंत्री हैं। वे यही नहीं रुके और शिवराज को कोरोना महामारी तक कह दिया। बाबा ने आरोप लगाया कि शिवराज झूठे और घोषणावीर मुख्यमंत्री हैं। बाबा ने कहा कि जनता समझ चुकी है कि किसे मुख्यमंत्री बनाना हैं। उन्होंने मान्धाता के पूर्व विधायक पर निशाना साधते हुआ कहा कि नारायण पटेल ने जनता से गद्दारी कर पटेलों की नाक कटवा दी। बाबा ने कहा कि नर्मदा शुद्दिकरण को लेकर यात्रा शुरू की थी जिसमें 75 फीसदी शुद्धिकरण कर दिया था लेकिन भाजपा वालों ने सरकार गिराकर उस काम को रोक दिया।


meena

Related News