बढ़ रहे महिलाओं के प्रति अपराध के मामले, चौंकाने वाले हैं MP के आंकड़े

1/11/2019 1:21:15 PM

दमोह : देश तरक्की कर रहा है, नई-नई सरकारें बन रहीं हैं, महिलाओं के उत्थान और बेटी बचाने की बात भी हो रही है, लेकिन महिलाओं से दरिंदगी के मामले फिर भी नहीं थम रहे। बीते साल ऐसी बहुत सी रेप की घटनाएं हुईं जिसने देश को हिला के रख दिया। लोग इंसाफ के लिए सड़कों पर उतरे, कैंडल मार्च निकाले, अपराधियों को सज़ा दिलाने के लिए प्रदर्शन भी किए। लेकिन नतीजा कुछ भी नहीं निकला।

PunjabKesari

आज भी न जाने कितनी महिलाएं और मासूम लड़कियां हैवानियत और छेड़छाड़ की शिकार हो रही हैं। आए दिनों सामने आ रही रेप और छेड़छाड़ जैसी वारदातों से यह साफ हो गया है कि महिलाएं और बच्चियां अपने घरों में भी सुरक्षित नहीं हैं। नौबत यहां तक आ जाती है कि बेटियां बदमाशों के खौफ में मौत को गले लगाने को मजबूर हो जाती हैं। ऐसी घटनाएं न केवल महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल रही हैं, बल्कि देश में कानून-व्यवस्था को आईना भी दिखा रही हैं।

PunjabKesari

बात मध्य प्रदेश की करें तो बीते दिनों प्रदेश में लगातार हो रही रेप की घटनाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने टिप्पणी की थी। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि, 'देश में सबसे ज्यादा रेप मध्य प्रदेश में हो रहे हैं'। सुप्रीम कोर्ट ने नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) का हवाला देते हुए कहा कि, 'हर छह घंटे में एक लड़की का रेप हो रहा है। देशभर में साल में 38 हजार से ज्यादा रेप हो रहे हैं। देश में सबसे ज्यादा रेप मध्य प्रदेश में हो रहे हैं, दूसरा नंबर यूपी का है'। 


PunjabKesari

 

दमोह में सामने आया शर्मनाक मामला  
मध्य प्रदेश में लड़की के साथ छेड़छाड़ का ऐसा मामला सामने आया है जिसने प्रदेश मे महिलाओं की सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल के रख दी है। मानवता को शर्मसार करने वाला यह मामला है दमोह जिले का। यहां कुछ दरिंदों ने एक लड़की के साथ अश्लील हरकत की और छेड़छाड़ का वीडियो भी बनाया। लड़की इन दरिंदों से रहम की भीख मांगती रही, लेकिन बदमाशों ने उसकी एक न सुनी। इस दौरान लड़की के साथ मौजूद लड़के ने भी बार-बार माफी मांगी, लेकिन बदमाशों ने उसकी लड़के की पिटाई कर दी। इसके बाद उन्होंने अश्लील वीडियो बनाकर उसे वायरल कर दिया। 
 

PunjabKesari


गौर करने वाली बात यह है कि जब सत्ता की डोर शिवराज के हाथ में थी, तो कांग्रेस ऐसे अपराधों का ठीकरा शिवराज सरकार पर फोड़ती थी। अब देखना यह होगा कि कमलनाथ सरकार के राज में हुई इस घटना पर बीजेपी क्या रुख अपनाती है। 

 

'


suman