पुलिस ने आधी रात को रोकी मंत्री की गाड़ी, तो मंत्री ने कंट्रोल रूम पहुंचकर किया ये काम...

11/29/2020 6:51:09 PM

ग्वालियर(अंकुर जैन): अपने अलग अंदाज के लिए पहचाने जाने वाले मध्य प्रदेश के उर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर एक बार फिर से सुर्खियों में हैं। इससे पहले आपने उर्जा मंत्री को शौचायलों, गंदे नालों की सफाई करते, बुजुर्गों के पांव छूते, बच्चों के साथ खेलते तो अक्सर देखा होगा लेकिन इस बार मंत्री जी ने कुछ ऐसा किया है कि इलाके में चारों ओर चर्चा हो रही है। दरअसल, पुलिस ने शनिवार को मंत्री जी की गाड़ी को चैंकिंग के लिए रोका तो उन्होंने गाड़ी से उतरकर बाकायदा चैंकिंग करवाई। इतना ही नहीं दूसरे दिन पुलिस कंट्रोल पहुंचकर पुलिस की प्रशंसा करते हुए रविवार को पुलिसकर्मियों का सम्मान किया।

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक, शनिवार को रात में करीब साढ़े दस बजे अपनी ही विधानसभा में एक शादी समारोह में शामिल होकर चार शहर का नाका, हजीरा से घर की तरफ लौट रहे थे। तभी हजीरा थाने के स्टाफ ने उनकी गाड़ी को चैकिंग पॉइंट पर रोक लिया। बताया जा रहा है कि मंत्री के साथ कोई पायलट और फॉलो नहीं था इसलिए पुलिस समझ ही नहीं पाई कि गाड़ी में मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर हैं। पुलिस को जैसे ही इस बात का पता चला चैकिंग पॉइंट पर मौजूद टी आई और अन्य स्टाफ घबरा गए। लेकिन मंत्री जी ने गाड़ी से उतरकर खुद गाड़ी चेक करवाई और पुलिस कर्मियों की कार्यशैली की प्रशंसा की।

PunjabKesari

पुलिस की कार्यशैली से हुए इम्प्रेस
हजीरा पुलिस की इस कार्यशैली से उर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर इतने इम्प्रेस हुए कि उन्होंने चैकिंग स्टाफ को सम्मानित करने का फैसला लिया। फिर क्या था एसपी अमित सांघी को फोन कर अपनी इच्छा जता दी। दोनों ने प्लानिंग के अनुसार, तय समय पर मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर पुष्पहार लेकर पुलिस कंट्रोल रूम पहुंच गए। उन्होंने हजीरा थाना टी आई मनोज शर्मा सहित चैकिंग में लगे पूरे स्टाफ को पुष्प हार पहना कर सम्मानित किया और उन्हें नगद पुरस्कार भी दिया।

PunjabKesari

वहीं मीडिया से बात करते हुए उर्जा मंत्री ने कहा कि शहर की कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए पुलिस द्वारा की जा रही कार्रवाई प्रशंसनीय है यदि शहर में सभी थाना क्षेत्रों में इसी तरह से पुलिस कर्मी पूरी मुस्तैदी से चैकिंग करेंगे तो यातायात तो सुधरेगा ही साथ ही अपराध भी रुकेंगे। लेकिन साथ ही पुलिस को निर्देश भी दिए कि किसी को बिना मतलब परेशान न किया जाए। वहीं एसपी अमित सांघी ने उर्जा मंत्री की इस पहल की तारीफ की और कहा पुलिस कर्मियों को इस तरह प्रोत्साहित करने से उनका मनोबल बढ़ता है।


meena

Related News