डेढ़ साल के मासूम के सामने दंपति ने की आत्महत्या, फंदे पर लटकी मां से लिपटकर रोता रहा मासूम, 4 घंटे बाद पड़ोसियों ने देखा

5/12/2022 12:49:03 PM

सागर: मध्य प्रदेश के सागर जिले से बेहद मार्मिक तस्वीर सामने आई है जहां मां फांसी के फंदे पर लटकी थी और डेढ़ साल का बेटा शव से लिपट कर रो रहा था। मासूम को पता ही नहीं था कि मां मर गई है। वह रोते रोते कभी अंदर जाता तो कभी बाहर। अपने खिलौने देख खुद ही थोड़ी देर चुप कर जाता और फिर से मां के पैर पकड़कर रोने लगता। यह सिलसिला तकरीबन 4 घंटे तक चलता रहा। बच्चे की रोने की आवाज सुनकर पड़ोसी पहुंचे तो दंग रह गए। मां का शव फंदे पर लटका हुआ है और मासूम उसके पैर पकड़कर सिसक रहा है। पड़ोसियों ने बच्चे को संभाला और पुलिस को सूचना दी। पता चला कि पिता भी बाथरूम में फांसी पर लटका हुआ है।

PunjabKesari

मां से लिपटकर रोता रहा मासूम
दिल दहला देने वाली घटना सागर जिले के गढ़ाकोटा की है। जहां नेपाल के अक्षम शहर के रहने वाले केसर साहूद (28), पत्नी पशुपति साहूद (24) गढ़ाकोटा के राम वार्ड में किराए से रह रहे थे। वे बस स्टैंड के पास मोमोज और चाऊमीन का ठेला लगाते थे। दोनों ने अपने कमरे में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि मंगलवार रात दोनों के बीच झगड़ा हुआ था। हालांकि सुबह तक दोनों को कमरे में देखा गया लेकिन सुबह 8 बजे के बाद 4 घंटे तक रह-रहकर कमरे से उनके डेढ़ साल के बच्चे के रोने की आवाज आती रही। लगातार बच्चे की रोने की आवाज सुनकर पड़ोसियों ने खिड़की से झांककर देखा तो महिला का शव फंदे पर लटका देखा। बेटा मां के पैरों से लिपटकर रो रहा था। पति का शव बाथरूम में फंदे पर लटका मिला।

PunjabKesari

अर्धनग्न अवस्था में लगाई फांसी
गढ़ाकोटा थाना प्रभारी रजनीकांत दुबे के अनुसार, दोनों ने साड़ी के टुकड़े से फंदा लगाया था। केसर और पशुपति दोनों ही अर्धनग्न थे। प्राथमिक जांच में मामला आत्महत्या का लग रहा है। पीएम रिपोर्ट के बाद मौत का कारण स्पष्ट हो सकेगा। इस बात की भी जांच होगी कि दोनों के शरीर पर आधे कपड़े क्यों थे। पड़ोसियों की मानें तो पति पत्नी में किसी बात को लेकर झगड़ा चल रहा था। बुधवार सुबह पत्नी जब दूध लेने गई तो शायद इसी बीच पति केसर ने बाथरूम में फांसी लगा ली। पति को लटका देख पत्नी ने भी फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

मां के लिए लगातार रो रहा मासूम
वहीं मासूम को पता भी नहीं है कि उसकी मां की मौत हो चुकी है। वह लगातार मां के लिए रो रहा है। केसर और पशुपति की मौत की खबर सुन उसका भाई सिद्धार्थ साहूद और जीजा भरत गढ़ाकोटा पहुंच गए। वे नरसिंहपुर जिले के करेली में रहते हैं। पुलिस ने फिलहाल मासूम को मृतक के भाई सिद्धार्थ को सौंप दिया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News