मौत के आंकड़ों में शिवराज सरकार की बाजीगरी! रिकॉर्ड में सिर्फ 4 मौंते, चिताएं जली 112

4/16/2021 12:24:03 PM

भोपाल: राजधानी भोपाल में कोरोना से हालात बिगड़ते नजर आ रहे हैं। कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है और भोपाल में इंदौर से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं और मौतें भी ज्यादा हो रही है। लेकिन मध्य प्रदेश के एक अखबार के अनुसार, सरकार पॉजिटिव और कोरोना से मरने वालों के आंकड़े छिपा रही है। जहां सरकारी आंकडों के मुताबिक कोरोना से गुरुवार को 4 मौते हुई वहीं अखबार में 112 मौतें होने की दावा किया है।

PunjabKesari

ड्रोन की मदद से ली गई तस्वीर के मुताबिक भोपाल के एक श्मशान घाट पर एक साथ कई चिताएं जल रही है। यह नजारा बेहद डरावना है। वहीं कहीं न कहीं शिवराज सरकार के झूठ की पोल भी खोल रहा है। आखिर सरकार मौत के आंकड़े क्यों छिपा रही है। बात यदि इंदौर की करे तो वहां का आलम भी कुछ ऐसा ही है। परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए टोकन लेने पड़ रहे हैं। अपनी बारी का इंतजार करते करते कभी कभी तो अंधेरा भी हो जाता है। सूर्यास्त के बाद भी चिताएं जलती नजर आती है। फिर भी सीएम शिवराज सिंह चौहान कहते नजर आते हैं कि कोरोना से निपटने के लिए हमारे पास पर्याप्त साधन है।

PunjabKesari

बात यदि जमीनी हकीकत की करें तो अकेला भोपाल या इंदौर ही नहीं राज्य के छोटे छोटे शहरों से भी ऐसी खबरें निकल कर सामने आ रही है जो सरकार के झूठ की पोल खोलती है। कहीं अस्पतालों में ऑक्सीजन, बेड और कहीं दवाइयों की कमी से मरीज दम तोड़ रहे हैं। जनता त्राहि त्राहि कर रही है। बुधवार को ही शिवपुरी से एक वीडियो सामने आई थी जिसमें एक बेटे के सामने उसके पिता ने तड़प तड़प कर दम तोड़ दिया क्योंकि वार्डवॉय ने ऑक्सीजन मशीन निकाल दी थी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static