ये दर्द जो मौत से भी बड़ा है, नशे ने पिता की जिंदगी के साथ मां-बेटी से छीन ली खुशियां

7/4/2020 5:54:12 PM

छतरपुर(राजेश चौरसिया): विश्वपर्यटन स्थल खजुराहो की एक ऐसी तस्वीर सामने आई है जो आपके दिल को पसीज देगी और आत्मा को झकझोर देंगी साथ ही प्रशासन के गैरजिम्मेदाराना रवैये को भी बयां कर रही है। तस्वीर में दिखने वाली ये नन्ही सी मासूम बेटी अपने पिता के शव पास बैठकर मदद की गुहार लगा रही है, पर कोई मदद को आगे नहीं आ रहा है। मामला विश्वपर्यायन स्थल खजुराहो के विधाधर चौक के पास बने प्रतीक्षालय (वेटिंग रूम) का है। जहां एक मासूम बेटी और उसकी मां अपने पति के शव को रखकर मदद की भीख मांग रही है। पर कोई भी मदद को नहीं आ रहा। यह वाक़या उन बड़ी-बड़ी ढींगे हांकने वालों के मुंह पर ताला लगाता नज़र आ रहा है और सिस्टम की सारी हकीकत बयां कर रहा है।

PunjabKesari

PunjabKesari

जानकारी के अनुसार राजू अनुरागी नाम का व्यक्ति जोकि अपने परिवार के साथ काफी लंबे समय से यात्री प्रतीक्षालय में अपना आशियाना बनाए हुए था। बताया जाता है कि वह नशे का बहुत ज्यादा आदी भी था, ऐसी स्थितियों में शुक्रवार को दम तोड़ दिया जिस पर उसके बच्चे वहां पर रोते बिलखते दिखाई दिए और मदद के लिए गुहार लगाते रहे। पिता की मृत्यु पर रोते बिलखते इन बच्चों का रुदन देखकर किसी का भी दिल नहीं पसीजा। ऐसी स्थिति जिसमें ना कोई घर है ना ठिकाना और ना ही इन बच्चों का भी कोई भविष्य है।

PunjabKesari

PunjabKesari

वहीं ऐसी स्थितियों में शासन और प्रशासन में बैठे हुए अधिकारियों ने भी इस परिवार की मदद के लिए हाथ नहीं बढ़ाया। निश्चित रूप से इस परिवार के लिए यह एक बेहद दुखद पहलू कहा जा सकता है। हालांकि काफी देर बाद डॉक्टरों की एक टीम आई और एंबुलेंस में उसके पिता को लेकर अस्पताल पहुंची। बता दें कि वर्तमान में यहां खजुराहो से सांसद विष्णु दत्त शर्मा हैं जो कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष भी हैं। बावजूद इसके यहां चिराग तले अंधेरा होने जैसी बातें प्रमाणित हो रहीं हैं।

PunjabKesari


Edited By

meena

Related News