शिवराज के मंत्री बोले- ‘मामा’ का पुर्नजन्म हुआ है, जानिए सीएम की किस महानायक से की तुलना

11/30/2021 11:09:07 AM

खरगोन: ‘मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह का पुर्नजन्म हुआ है’ ऐसा हम नहीं उनके मंत्री कमल पटेल कह रहे हैं। जी हां कृषि मंत्री कमलपटेल का कहना है कि सीएम शिवराज सिंह का पुर्नजन्म हुआ है। वे पिछले जन्म में आदिवासी टंट्या मामा थे। इतना ही नहीं कमल पटेल ने कहा कि सीएम शिवराज सिंह चौहान टंट्या मामा की तरह ही दुबले पतले हैं। कमल पटेल के इस बयान पर कांग्रेस ने आपत्ति ली है। कांग्रेस का कहना है कि एक महानायक से शिवराज से तुलना करना गलत है।

PunjabKesari

दरअसल, मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल खरगोन जिले के भीकनगांव में टंट्या मामा की गौरव यात्रा में शामिल होने पहुंचे थे। इसी मंच से सभा को संबोधित करते सीएम शिवराज की तारीफ कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने कहा कि टंट्या मामा का पुनर्जन्म मामा शिवराज सिंह चौहान के रूप में हुआ है। उन्होंने कहा कि हमारी संस्कृति में यह माना जाता है कि पुनर्जन्म होता है एक मामा (टंट्या मामा) 1842 में हुए और दूसरे मामा शिवराज सिंह चौहान मध्य प्रदेश में हुए हैं। कृषि मंत्री पटेल ने आगे कहा कि टंट्या मामा भी दुबले- पतले थे और हमारे सीएम शिवराज भी दुबले -पतले हैं इसलिए उन्हें भी मामा कहते हैं। टंट्या मामा भी कन्याओं का विवाह कराते थे, हमारे मामा भी मुख्यमंत्री कन्यादान योजना में कन्याओं का विवाह कराते हैं। टंट्या मामा बड़े लोगों को लूट कर गरीबों में बांट देते थे, लेकिन हमारे मामा लूट नहीं रहे हैं बल्कि बड़े लोगों पर टैक्स लगाकर उसे गरीबों में बांटते हैं। इसलिए मुझे लगता है कि टंट्या मामा का पुनर्जन्म शिवराज सिंह चौहान के रूप में हुआ है'।
PunjabKesari

कांग्रेस बोली- ये टंट्या मामा का अपमान
वहीं कृषि मंत्री कमल पटेल के इस बयान का कांग्रेस ने विरोध किया है। कांग्रेस प्रवक्ता नरेंद्र सलूजा ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 'आदिवासी वर्ग के महानायक टंटया मामा की तुलना शिवराज जी से, कृषि मंत्री के बेतुके बोल। टंटया मामा को लुटेरा बता रहे हैं? शिवराज बड़े लोगों पर टैक्स लगाते हैं, यह समानता है? एक महानायक से शिवराज जी की तुलना ग़लत है। मंत्री का बयान टंटया मामा का अपमान है।  मंत्री और भाजपा को इसके लिए माफ़ी मांगनी चाहिए।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News