अस्थियां कर रही है विसर्जन का इंतजार, कुछ अपने रखकर भूले तो कईयों को है कोरोना वायरस का डर

5/14/2021 9:39:37 PM

इंदौर(सचिन बहरानी): मध्यप्रदेश के हदयस्थल इंदौर में कोरोना से मरने वालों की संख्या जिला प्रशासन के आकड़ों से भले ही मेल ना खा रहे हो लेकिन चौकानें वाली बात यह है कि मृतकों के परिजन दाह संस्कार के बाद उनकी अस्थियां को ले जाना भूल गए है जिनका आंकड़ा सैंकड़ों में पहुंच रहा है। इन अस्थियों के अंबार के बारे में पड़ताल की तो कई हैरान कर देने वाले मामले सामने आए हैं।

PunjabKesari

इंदौर के पश्चिम क्षेत्र के सर्व सुविधा युक्त पंचकुइया मुक्ति धाम में इन दिनों मृतकों की अस्थियों का अंबार सा लगा हुआ है। मृतकों के परिजनों को बीमारी का डर है तो कोई परिवारिक विवाद के चलते अस्थियां नहीं ले जा रहे है। इस कारण से मुक्तिधाम में बने अस्थि संख्या ग्राम में थैलियों में सैकड़ों की संख्या में अस्थियों के फूल टांगे हुए हैं। दिन पर दिन अस्थियों की संख्या बढ़ती जा रही है। अस्थियों की देखभाल करने वाले व्यक्ति से जब बातचीत की गई तो उनका कहना था कि कई लोग अस्थियां ले जाना भूल जाते हैं तो कईयों का परिवारिक विवाद के चलते वह सालों बाद आते हैं लेकिन इस आपदा भरे दौर में बीमारी के डर से भी कई लोग अस्थियां लेने नहीं आ रहे हैं। उनका मानना है कि बीमारी के चले जाने के बाद ही इन अस्थियों का विसर्जन किया जाएगा।

PunjabKesari

इस कारण से कई लोग इन अस्थियों को लेने नहीं आए हैं जिसके कारण अस्थि सभागृह में करीबन 500 से 800 अस्थियां रखी हुई है कइयों का मानना है कि लॉकडाउन के बाद पूरी विधि विधान से अस्थि विसर्जन किया जाएगा। इसी कारण से यहां अस्थियां रखी हुई है। खैर मामला कुछ भी हो लेकिन यह अस्थियों की बढ़ती संख्यां भी एक चिंता का विषय बनी हुई है जिसके कारण मुक्तिधाम के संचलाकों को आने वाले दिनों में अस्थियों के रखरखाव के लिए अलग से व्यवस्था करनी पड़ सकती है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static