32 सीटर बस में 60 से ज्यादा लोग थे सवार, हादसे में 52 लोगों ने गंवाई जान, जिम्मेदार कौन?

2/17/2021 4:49:12 PM

मध्य प्रदेश डेस्क: मध्य प्रदेश के सीधी में मंगलवार सुबह हुए बस हादसे ने सभी को हिला कर रख दिया है। अब तक 51 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है। लेकिन इस दर्दनाक हादसे का आखिरकार जिम्मेदार कौन है। कांग्रेस ने इस लापरवाही के लिए जहां भाजपा सरकार की जिम्मेदार बताया है। वहीं 32 सीटर बस पर 60 से ज्यादा लोग सवार होना भी इस हादसे की बड़ी वजह मानी जा सकती है।

PunjabKesari

बता दें कि हादसाग्रस्त बस में करीब 60 लोग सवाल थे जिनमें से 7 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला जा चुका है। वहीं अब तक 51 शव बरामद किए जा चुके हैं। अन्य का रेस्क्यू जारी है। बस सीधी से सतना के लिए जा रही थी। बस में बहुत से छात्र भी मौजूद थे जो भर्ती परीक्षा देने जा रहे थे। इस हादसे ने बस से यात्रा करने वाले यात्रियों की सुरक्षा को लेकर एक नई बहस छेड़ दी है।

PunjabKesari

सवाल तो बहुत हैं, लेकिन जबाव चाहिए...

  1. आखिर 32 सीटर बस पर 60 लोगों को सवार होने की इजाजत किसने दी?
    2. नियमों को ताक पर रखकर लापरवाही करने के लिए किसने इजाजत दी?
    3. क्या मध्य प्रदेश परिवहन विभाग सहित अन्य जिम्मेदारों इस लापवाही के जिम्मेदार नहीं है?
    4. क्या वे बसों की चेकिंग नहीं करते?
    5. क्या बसों का फिटनेट टेस्ट नियमित तौर पर किया जाता है?

PunjabKesari

वही यदि मान भी लिया जाए कि चेंकिंग होती है
1.तो बस में यात्रियों को क्षमता से ज्यादा क्यों बैठाया गया?
2.क्या बस चालकों में सरकार और परिवहन विभाग को लेकर डर नहीं है? 
3. मध्य प्रदेश सरकार ने 32 सीटर बसों को अधिकतम 75 किमी के रूट का परमिट देने का नियम बनाया है। हादसे का शिकार हुई बस भी इसी क्षमता की थी, लेकिन वह सीधी से सतना के बीच 138 किमी का सफर तय कर रही थी। नियम के खिलाफ जाकर बस को ये परमिट किसने दिया?  
4. ओवरलोडिंग बस को किसी ने रास्ते में रोका क्यों नहीं?

 


Content Writer

meena

Related News