महाकाल मंदिर में BJP नेताओं की VVIP एंट्री! पुजारियों को भी बाहर रोका, जमकर हुआ बवाल(VIDEO)

8/13/2021 12:30:57 PM

उज्जैन: आज तड़के सुबह करीब 3-4 बजे बाबा महाकाल मंदिर में उस समय हंगामें की स्थिति बन गई जब भाजपा के वरिष्ठ नेता कैलाश विजयवर्गीय, रमेश मैंदोला, आकाश विजयवर्गीय को वीवीआईपी दर्शन कराने के लिए प्रशासन ने मंदिर के पुजारियों को अंदर आने से रोक दिया। इस दौरान जमकर हंगामा हुआ और भस्मआरती आधे घंटे लेट शुरु हो सकी। एक तरफ भाजपा नेता प्रशासन के साथ आराम से मंदिर परिसर में बाबा के दर्शन करते रहे तो दूसरी और पुजारियों को ऊपर ही बंद कर दिया गया। उन्हें अंदर नहीं आने दिया गया। जबकि महाकाल मंदिर में भस्म आरती के दौरान सभी वीआईपी और आम श्रद्धालु का प्रवेश प्रतिबन्धित कर रखा है।

PunjabKesari

मंदिर में प्रवेश न मिलने से नाराज पुजारी
मंदिर में निर्धारित समय पर प्रवेश न मिलने से नाराज अजय पुजारी ने प्रवेश के लिए मिले पास को फेक दिया और हंगामा खड़ा कर दिया। हंगामे के बिच मीडियाकर्मियों ने जब कैलाश विजयवर्गीय और उनके साथ आये अन्य लोगों से आवाज लगाकर पूछने की कोशिश की तो रमेश मेंदोला ने अपना मुंह ढक लिया और कैमरे से बचकर भागते नजर आए।

PunjabKesari

महाकालेश्वर मंदिर में शुक्रवार को नाग पंचमी के अवसर पर अल सुबह होने वाली बाबा महाकाल की भस्मारती भाजपा नेताओं के कारण करीब आधा घंटा देरी से शुरू हो सकी। प्रशासन द्वारा गर्भगृह में पंडे-पुजारी के अलावा किसी को भी जाने की अनुमति नहीं है। नेताओं के जल चढ़ाने के कारण बाबा महाकाल की भस्म आरती करीब आधा घंटा देरी से शुरू हो पाई। इसको लेकर भी मंदिर के पंडे-पुजारियों में आक्रोश बना हुआ है।

PunjabKesari

कुछ भी बोलने को तैयार नहीं अधिकारी
हालांकि, सारे घटनाक्रम के बाद प्रशासन और मंदिर से जुड़े अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं। बता दें कि बीजेपी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय महाकाल को भस्म आरती में जल अर्पित करने पहुंच जाते है। आज सुबह भी 3 बजे मंदिर के पट संजय पुजारी ने खोले जिसके बाद महाकाल मंदिर के सभी द्वार पर ताले लगा दिए गए। सीसीटीवी और अन्य कैमरे का लाइव भी फ्रिज कर दिया गया।

PunjabKesari

कुछ देर बाद मंदिर के मुख्य पुजारी अजय पुजारी भस्म आरती को लेकर मंदिर पहुंचे तो उन्हें पहले गेट नंबर 4 पर रोका गया, जैसे तैसे वहां से निकले तो सूर्यमुखी द्वार पर रोक दिया गया। यहां पर अजय पुजारी की बहस ड्यूटी पर तैनात वाणिज्य कर अधिकारी दिनेश जायसवाल हो गई। जिसके बाद अजय पुजारी और उनके साथ आये अन्य पुजारियों ने जब सभा मंडप में कैलाश विजयवर्गीय के साथ अन्य विधायकों आकाश और रमेश मैंदोला को देखा तो वे भड़क गए। पुजारियों ने अपना कार्ड फेंक दिया और कलेक्टर से शिकायत की बात कही।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static