हिजाब पहनकर यूनिवर्सिटी पहुंची और पढ़ने लगी नमाज, मुस्लिम लड़की ने खड़ा कर दिया बवाल

3/26/2022 3:03:13 PM

सागर(देवेंद्र कश्यप): हिजाब का विवाद अभी थमा भी नहीं था कि अब नमाज को लेकर एक नया विवाद खड़ा हो गया है। कर्नाटक के बाद मध्य प्रदेश के सागर में स्थित डॉ. हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय में नमाज पढ़ने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सोशल मीड़िया पर वायरल वीडियो के अनुसार एजुकेशन विभाग की एक छात्रा यूनिवर्सिटी भवन में नमाज पढ़ती दिख रही है। वीडियो वायरल होते ही हिंदू जागरण मंच ने इस मामले की शिकायत विश्वविद्यालय प्रशासन से की है, जिसके बाद जांच के आदेश दिये गए हैं।

PunjabKesari

ये है पूरा मामला
सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो के मुताबिक, डॉ. हरिसिंह गौर केंद्रीय विश्वविद्यालय के एजुकेशन डिपार्टमेंट में एक छात्रा जो नियमित रूप से हिजाब में आती है, वह शुक्रवार दोपहर में यूनिवर्सिटी में ही नमाज अदा कर रही थी। वीडियो वायरल होते ही कई हिंदू संगठन इसके विरोध में उतर आए और विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार और कुलपति से शिकायत की। छात्रा दमोह की रहने वाली है और बीएससी बीएड की पढ़ाई कर रही है।

PunjabKesari

विश्वविद्यालय पर कार्रवाई की मांग
हिंदू जागरण मंच के उमेश सराफ ने मामले की शिकायत की है और उनका कहना है कि यह छात्रा नियमित रूप से हिजाब पहनकर डिपार्टमेंट में आती है और अब यहां नमाज अदा करने लगी है। विश्वविद्यालय प्रशासन को इस पर कार्रवाई करना चाहिये।

विश्वविद्यालय में लागू नहीं ड्रेस कोड
मामले को लेकर यूनिवर्सिटी के प्रशासन का कहा कि एज्यूकेशन डिपार्टमेंट में किसी किस्म का ड्रेस कोड लागू नहीं है और ना ही हिजाब को लेकर कोई विवाद है। छात्रा पिछले एक साल से लगातार हिजाब में ही आती है और अपनी पढ़ाई कर रही है। अब मामले की शिकायत आई है इसकी जांच की जाएगी।

PunjabKesari

कुलपति प्रोफेसर नीलिमा गुप्ता का कहना है
केंद्रीय विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर नीलिमा गुप्ता के अनुसार दमोह की छात्रा BSC-BED की पढ़ाई कर रही है और इस साल फाइनल ईयर का एग्जाम देगी। छात्रा का हिजाब में आना कोई नई बात नहीं है, दोपहर बढ़ बजे यूनिवर्सिटी कॉरिडोर में नमाज पढ़ने के वायरल वीडियो पर जांच की जा रही है। इसे लेकर विश्वविद्यालय ने कमेटी का गठन कर दिया है। साथ ही उन्होने सभी स्टूडेंट्स से कहा है कि वो अपने धर्म और संप्रदाय से जुड़े क्रियाकलापों को घर पर या विश्वविद्यालय से बाहर पूरी करें।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News