लॉकडाउन में छात्रावास हुआ बंद तो अधीक्षक ने बनाया प्याज गोदाम... सरकारी बिजली से चल रहे पंखे

6/10/2021 2:38:07 PM

शाजापुर: देशभर में स्कूल और कॉलेज कोरोना महामारी के कारण बंद पड़े हैं। ऐसे में मध्य प्रदेश के शाजापुर के खाली पड़े एक छात्रावास से हैरान कर देने वाली तस्वीरें सामने आई है। प्रदेश सरकार में नेतृत्व करने वाले शिक्षा मंत्री के अपने ही जिले में स्कूली बच्चों के लिए बनाए छात्रावास का उपयोग प्याज के गोदाम के रूप में किया जा रहा है, वह भी उसी छात्रावास के अधीक्षक द्वारा। बड़ी बात तो यह सामने आई कि प्याज का स्टॉक बड़ी मात्रा में किया गया और वह खराब न हो, इसके लिए सरकारी बिजली का उपयोग कर एग्जॉस्ट फैन भी लगा दिए।


PunjabKesari

जिला मुख्यालय पर ही आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा संचालित जनजातीय सीनियर बालक छात्रावास गैस गोडाउन रोड़ पर स्थित है, लॉकडाउन के दौरान बच्चे ना होने से इस पूरे छात्रावास को प्याज का गोडाउन एवं तबेला बना दिया गया। यहां मवेशी भी बंधे दिखाई दिए। सरकारी भवन का निजी उपयोग करने की जानकारी सामने आने पर पड़ताल शुरू की तो पता चला कि यह खेल कई दिनों से चल रहा था। बडी मात्रा में यहां प्याज स्टॉक कर रखे गए।

PunjabKesari

जनजातीय सीनियर बालक छात्रावास संक्रमण की पहली ही लहर में खाली होना शुरू हो गया था। बड़े परिसर में बने इस भवन में बच्चों के रहने के लिए 8 से 10 बड़े कमरे बने हुए हैं। सूत्रों के अनुसार इस भवन का गोदाम का उपयोग पहले लहसुन और बाद में प्याज का स्टॉक करने के लिए कई दिनों से किया जा रहा था।

PunjabKesari

इस दौरान मौके से ही कमरों में प्याज के सवाल पर छात्रावास अधीक्षक कमल बोड़ाना को कोई मलाल नहीं दिखाई दिया। फोन पर अपनी गलती नहीं मानते हुए उन्होंने यह तर्क दे दिया कि मैंने प्याज बेच दिए हैं, जल्द ही खाली करा दूंगा।

 

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static