MP के कृषि मंत्री ने की केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा से मुलाकात, उठाई यूरिया की मांग

12/12/2019 6:41:42 PM

भोपाल (इजहार हसन खान): मध्य प्रदेश में यूरिया की किल्लत के कारण राजनीति काफी गरमाई हुई है। मुख्यमंत्री कमलनाथ और पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान के बीच ट्विटर वार चल रही है। वहीं मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री सचिन यादव ने गुरूवार को दिल्ली में केंद्रीय रसायन और उर्वरक मंत्री सदानंन्द गौड़ा सदानन्द गौड़ा से मुलाकात कर प्रदेश के किसानों की यूरिया की मांग को पुरजोर तरीके से उठाया।

PunjabKesari

मध्य प्रदेश के कृषि मंत्री ने अपने केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा से मुलाकात के बारे में ट्वीट भी किया। वहीं कृषि मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि उन्होंने अपनी मुलाक़ात में मंत्री गौड़ा को बताया है कि इस वर्ष मध्य प्रदेश में गेंहू का रकबा बढ़ा है। इसीलिए यूरिया की मांग बढ़ी है तो मात्रा भी बढ़ाई जाए। यादव ने बताया कि उनको केंद्रीय मंत्री ने आश्वस्त किया है कि मध्य प्रदेश में यूरिया की कमी नहीं आने दी जाएगी, जितनी भी प्रदेश की मांग है उसे तत्काल पूरा करेंगे। वहीं प्रदेश के किसानों के बारे में कृषि मंत्री यादव ने कहा की हमारी सरकार दृढ़ संकल्पित है प्रदेश के अन्नदाताओं के लिए यूरिया की कोई कमी नहीं आने देंगे।

केंद्र ने रबी की फसल की 18 लाख मीट्रिक टन की मांग को घटाकर 15 लाख 40 हजार मीट्रिक टन तय किया है। मध्यप्रदेश में रबी की फसल के लिए सर्वाधिक मांग यूरिया की रहती है जिसका छिड़काव नवंबर से शुरू होकर जनवरी तक गेहूं की फसल समय चना और सब्जियों में किया जाता है। यही वजह है कि किसान जिन्होंने गेहूं चना सरसों मटर की बिजाई कर दी है। वह किसान लंबी-लंबी लाइनों में सोसायटियों के सामने यूरिया के छिड़काव के लिए यूरिया के इंतजार में नजर आने लगे हैं। इसी यूरिया की कमी के चलते जहां हालात बिगड़ने लगे हैं। वहीं हफ्ते भर में ही रायसेन सीहोर विदिशा राजगढ़ भिंड और सागर में समय दर्जनभर से ज्यादा जिलों में यूरिया को लेकर झड़पे सामने आ रही हैं।

कांग्रेस के लिए सत्ता में आने का मास्टरस्ट्रोक कर्जमाफी रहा था। वहीं राज्य के किसान अभी भी कर्जमाफी को तरस रहे हैं। बरसात हुई तो फसलें तबाह हुईं। उम्मीद थी कि सरकार बर्बाद हुई फसलों का मुआवजा देगी। वह भी अब तक नहीं मिला ऐसे में अब यूरिया की कमी से जूझते किसान परेशान हैं। सरकारी तौर पर यूरिया अबतक नहीं मिल रहा है, लेकिन ब्लैक में यूरिया चारों तरफ मौजूद है।


Edited By

Jagdev Singh

Related News