digvijay singh's tweet के बाद ही भड़कती है 'हिंसा', अपना उल्लू सीधा करने के लिये 'दंगाइयों' को देते हैं समर्थन: विश्वास सारंग

4/17/2022 5:53:51 PM

भोपाल: दिल्ली हिंसा (delhi violence) पर MP के चिकित्सा मंत्री विश्वास सारंग (vishwas sarang) ने दिग्विजय सिंह (digvjijay singh) और कांग्रेस के अन्य नेताओं के ट्वीट से जोड़ा है। विश्वास सारंग ने आरोप लगाया कि दिग्विजय सिंह (digvjijay singh) जैसे लोग जब ट्वीट करते हैं, उसके बाद ही इस तरह की हिंसा करने के लिए लोग प्रेरित होते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और दिग्विजय सिंह (digvjijay singh) तुष्टीकरण की राजनीति का साथ दे रही हैं। विश्वास सारंग ने कहा कि जो दिल्ली में हुआ वो बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है। ऐसे लोग जो अपनी तुष्टिकरण की राजनीति के कारण समुदाय विशेष को बरगलाने का काम करते हैं तो उसका रिएक्शन यह होता है। औवेसी, दिग्विजय सिंह, राहुल गांधी लगातार तुष्टिकरण की राजनीति को आगे बढ़ाने की कोशिश करते हैं। जब इस तरह का एक्शन होता है तो उसके पीछे दिग्विजय सिंह जैसे लोगों के ट्वीट ही काम करते हैं। 

देश का सबसे बड़ा वायरल नेहरू परिवार: विश्वास सारंग

चिकित्सा मंत्री ने दावा किया कांग्रेस के नेताओं ने 70 सालों से धर्म से धर्म को, जाति से जाति को लड़ाने की राजनीति की है। चिकित्सा मंत्री विश्वास सारंग (minister vishwas sarang) ने राहुल गांधी के ट्वीट, सोनिया गांधी के आर्टिकल और कांग्रेस के वायरस वाले बयान पर निशाना साधते हुए कहा कि इस देश में सबसे बड़ा वायरस नेहरू परिवार है, ये हम नहीं इतिहास बोलता है। उन्होंने कहा कि कश्मीर की समस्या, इस देश में अलगाववाद की मानसिकता, क्षेत्रवाद, देश में धर्म को धर्म से लड़ाई सबके पीछे नेहरू परिवार ही है। सारंग ने यह भी कहा कि विदेश की महिला के कंधे पर बैठकर कांग्रेस राज करना चाहती है।

दंगाइयों को समर्थन देते हैं दिग्विजय सिंह: बीजेपी 

70 साल की आजादी में सबसे खराब कार्यकाल नेहरू परिवार का रहा है। नेहरू परिवार इस देश में घृणा का वायरस है। उन्होंने कहा कि नेहरू परिवार ने देश में नफरत फैलाने का काम किया, जनता ने नेहरू परिवार के वायरस को राजनीति से अलग हटाने का मन बना लिया है। वहीं खरगोन में पलायन पर मंत्री सारंग ने कहा कि भाजपा सरकार में किसी को भी पलायन की जरूरत नहीं है। खरगोन में हमने दंगाइयों को नस्तेनाबूत करने का काम किया है। दंगाई और दंगाईयों का परिवार पनाह मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि सीएम शिवराज के निर्देश हैं कि मध्यप्रदेश में दंगाई, गुंडे, बदमाश और दबंगों के लिये कोई स्थान नहीं दिया जाएगा। दिग्विजय सिंह जैसे नेता अपना उल्लू सीधा करने के लिये दंगाइयों को समर्थन देते हैं।     


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Devendra Singh

Related News

Recommended News