इन कारणों से शिवराज मंत्रिमंडल के विस्तार में फंसा पेच, नरोत्तम मिश्रा दिल्ली पहुंचे

6/30/2020 10:47:09 AM

भोपाल: सीएम शिवराज सिंह चौहान के मंत्रिमंडल के विस्तार में विघ्न बाधाओं का दौर जारी है। अंतिम मुहर न लगने की वजह से मंत्रिमंडल का विस्तार मंगलवार को भी नहीं हो सकेगा। बताया जा रहा है कि कैबिनेट में किन चेहरों को जगह मिले इस बात को लेकर पेच फंसने से यह विस्तार अब बुधवार 1 जुलाई को हो पाएगा। इसके चलते सीएम शिवराज सिंह चौहान, प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा, संगठन महासचिव सुहास भगत और वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया की भोपाल वापसी का कार्यक्रम टल गया है।

PunjabKesari

कार्यावाहक राज्यपाल आंनदीबेन पटेल दिलाएगी शपथ
राज्यपाल लालजी टंडन की स्वास्थ्य समस्या करके अब मध्य प्रदेश के कार्यावाहक राज्यपाल के रुप में अतिरिक्त प्रभार संभाल रहीं यूपी की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी भोपाल जाने का कार्यक्रम टाल दिया है। वहीं सरकार बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले भाजपा नेता व स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा को अचानक दिल्ली बुलाया गया है। दिल्ली में मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर चर्चा के बाद ही तय होगा कि विस्तार कब होगा।

PunjabKesari

सूत्रों के माने तो केंद्रीय नेतृत्व ने मंत्रिमंडल विस्तार को हरी झंडी दे दी है, लेकिन सिंधिया समर्थक विधायकों और भाजपा के पुराने विधायकों को लेकर पेच फसा हुआ है। यह तय नहीं हो पा रहा है सिंधिया समर्थक कितने विधायकों को कैबिनेट में शामिल किया जाए।

PunjabKesari

सिंधिया ने सौंपी आठ विधायकों की सूची
गौरतलब है कि कमलनाथ सरकार को अलविदा कहने में खास भूमिका निभाने वाले 22 विधायाकों में से दो पहले ही कैबिनेट में शामिल हो चुके हैं। बताया जा रहा है कि अब सिंधिया ने आठ और नाम कैबिनेट के लिए सौंपे हैं। इनमें कुछ नाम ऐसे हैं जिन्हें मंत्री बनाने पर भाजपा को अपने कद्दावर नेताओं की अनदेखी करनी होगी। खास बात यह है कि मंत्रिमंडल का विस्तार ऐसे समय में हो रहा है कि राज्य में 24 सीटों पर उपचुनाव हो रहे हैं। ऐसे में नेतृत्व नहीं चाहता कि पार्टी में फूट पड़े।


Edited By

meena

Related News