अमेजन पर सख्त शिवराज सरकार! गृहमंत्री बोले- ई-कॉमर्स के लिए नीति बनाना जरूरी

11/25/2021 3:36:08 PM

इंदौर(सचिन बहरानी): भिंड जिले में ऑनलाइन गांजा तस्करी के मामले के बाद इंदौर में ऑनलाइन जहर मंगवाकर सुसाइड मामले में मध्य प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान सामने आया है। डॉ मिश्रा ने मामले में FIR दर्ज करने और कंपनी के अधिकारियों को तलब करने के निर्देश दिए गए है। साथ ही भरोसा दिया कि ई-कॉमर्स कंपनियों के इस तरह के अनुचित कारोबार पर रोक लगाने के लिए प्रदेश सरकार जल्द ही उचित नीति बनाकर केंद्र सरकार को भेजेगी।

दरअसल, गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा आज सुबह इंदौर पहुंचे थे जहां अमेजन से ऑनलाइन जहर मंगवाकर सुसाइड करने वाले युवक के परिजन उनसे मिले। इस दौरान डॉ मिश्रा ने कहा कि अमेजॉन पर एफआईआर करने के निर्देश दे दिए गए हैं। एफआईआर के बाद अमेजॉन के अधिकारियों को बुलाया जाएगा और अगर वह नहीं आते हैं तो पुलिस अपने हिसाब से उन्हें लेकर आएगी।

PunjabKesari

बता दें कि पिछले दिनों पकड़ी गई ऑनलाइन गांजा तस्करी के मामले में पुलिस ने ई-कॉमर्स कंपनी एएसएसएल अमेजन को भी आरोपी बना लिया था। कंपनी से पुलिस ने कई सवाल किए थे लेकिन संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर कंपनी को आरोपी बनाया गया है। भिंड पुलिस ने इस संबंध में मीडिया को प्रेस विज्ञप्ति जारी की है। वहीं हाल ही में एक अन्य मामले में भी अमेजन पर आरोप लगे हैं। एक दंपति का कहना है कि उनके बेटे ने अमेजन से ऑनलाइन जहर मंगवाकर जान दे दी। अगर अमेजन से जहर न मिलता तो शायद हमारा बेटा बच जाता। इसलिए अमेजन हमारे बेटे का कातिल है। साथ ही उन्होंने अमेजन पर कार्रवाई की मांग की है।

PunjabKesari

वहीं भिंड गांजा तस्करी मामले में ई - कॉमर्स कंपनी द्वारा मेरिजुआना की ऑनलाइन तस्करी आरोपियों ने पूछताछ के दौरान इस गांजे की सप्लाई और तस्करी ई- कॉमर्स कंपनी अमेजन की मदद से करने की बात मान ली थी। कंपनी के खिलाफ कुछ प्रूफ भी मिले थे जिनमें आर्डर और ट्रांजेक्शन शामिल है। लेकिन पुलिस ने इन तथ्यों को लेकर जब एएसएसएल अमेजन से पूछा तो दोनों में बड़ा अंतर था।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News