वाट्सअप के सामने फेल हो गया गुलाब ! Rose नहीं Love chat बन गई Youth की पसंद

2/14/2021 4:12:58 PM

शहडोल(अजय नामदेव): सोशल मीडिया के दौर में वेलेंटाइन डे पर इस बार गुलाब की खुशबू फीकी नजर आई। जहां लोग वेलेंटाइन डे पर गुलाब का फूल खरीदकर अपने प्यार का इजहार करते थे और बेहतरीन तोहफा गुलाब को माना जाता रहा है। वहीं इस बार माहौल बदल गया है। जहां शहडोल में कई फूल विक्रेताओं ने इस दिन को लेकर विशेष तैयारी कर रखी थी। खास तौर पर गुलाब का फूल मंगवाया गया था लेकिन इस बार गुलाब का फूल पिछले वर्षों की अपेक्षा बिका ही नहीं। जिसे लेकर फूल विक्रेताओं ने चिंता व्यक्त करते हुए इसे आधुनिकता के दौर में सोशल मीडिया को जिम्मेदार ठहराया है। फूल विक्रेताओं का कहना है कि इस बार लोग सोशल मीडिया पर वेलेंटाइन डे मना रहे जिसके चलते फूलों की बिक्री नहीं हुई। 

PunjabKesari

शहडोल में इस बार सोशल मीडिया ने वेलेंटाइन डे की चमक फीकी कर दी है। फूलो कि दुकान में युवा लड़को लड़कियों की भीड़ बहुत कम नजर आ रही है, वही फूल विक्रेता भी कह रहे है कि इस बार युवा गुलाब खरीदने में कम रुचि दिखा रहे है, बाजार में गुलाब का एक फूल  60 रुपये से 100 रुपये तक में बिक रहा है, जिससे लोग इसे कम ही खरीद रहे हैं। शहडोल के मुख्य चौराहे गांधी चौक में पिछले कई वर्षों से फूल का विक्रय कर रहे हैं।

PunjabKesari

फूल विक्रेता अनिल कुशवाहा ने बताया कि इस साल गुलाब के फूलों की बिक्री आधी रह गई है, युवा अब वाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया के जरिये वेलेंटाइन डे विश कर रहे हैं। साथ ही युवा होटल या पिकनिक पर जाकर वेलेन्टाइन डे मनाना पसन्द कर रहे हैं। जिससे इस बार गुलाब की बिक्री नहीं हुई जबकि इसके लिए पहले से तैयारी कर रखी थी। 

PunjabKesari

फरवरी का दूसरा सप्ताह प्रेम करने वालों के लिए होता है। जरूरी नहीं आपका वेलेंटाइन सिर्फ प्रेमिका ही हो, वो आपके माता-पिता, भाई-बहन, पति-पत्नी और बेटा-बेटी हो सकते हैं। 14 फरवरी को वेलेंटाइन डे मनाया जाता है। सभी अपने वेलेंटाइन को खुश करने के लिए कई सारे तोहफे देते हैं। इनमें सबसे बेहतरीन तोहफा गुलाब को माना गया है। धनबाद में कई फूल विक्रेताओं ने इस दिन को लेकर विशेष तैयारी कर रखी है। खासकर तौर पर गुलाब का फूल मंगवाया गया है। लेकिन इस बार वे निराश है। 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News