4 महीने का भ्रूण बना पुलिस का सिरदर्द ! पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पतालों ने दिनभर छनवाई खाक

9/22/2021 7:02:26 PM

राजगढ़(सुनील सरावत): राजगढ़ के सुठालिया थानाक्षेत्र की पुलिस को एक भ्रूण का पीएम कराने के लिए दिन भर चक्कर काटना पड़ा। दरअसल, सुठालिया पुलिस को मंगलवार रात करीब 9 बजे सूचना मिली कि पारसाना गांव में सड़क किनारे 4  महीने का भ्रूण पड़ा हुआ है। पुलिस ने तत्काल मौके पर पहुचकर भ्रूण को उठाया और एफआईआर दर्ज कर मामले की जांच शुरु की। भ्रूण को अस्पताल में पीएम के लिए भेजा गया लेकिन उसका पीएम नहीं हो पाया। सुठालिया व ब्यावरा अस्पताल के बीच उलझे मामले के कारण पुलिस दिनभर भटकती रही पुलिस ने सुठालिया ब्यावरा के बीच दो चक्कर काटे तब जाकर कहीं पीएम हो पाया।

PunjabKesari

सुठालिया से ब्यावरा के बीचे घूमता रहा भ्रूण
दरअसल, एसआई अरुंधति राजावत व पुलिस टीम इस भ्रूण को पोस्टमार्टम के लिए सुठालिया सामुदायिक अस्पताल लेकर पहुंची लेकिन अस्पताल प्रबंधन ने इसका पीएम करने से मना कर दिया और कहा कि ऐसे मामलों के पीएम ब्यावरा होते है। पुलिस ने फिर इसे ब्यावरा के सिविल अस्पताल भेज दिया। फिर ब्यावरा के डॉक्टरों ने इसे वापस सुठालिया भेज दिया। कहा गया कि सुठालिया का मामला है पीएम वही होगा। आखिरकार सुठालिया के डॉक्टर की बात उच्च अधिकारियों से हुई  इसके बाद बुधवार दोपहर बाद भ्रूण को ब्यावरा अस्पताल भेजा गया जहां इसका पीएम हुआ। भ्रूण के पीएम में 2 0 घंटे का वक्त लग गया।

बीएमओ सुठालिया ने बताया कि भ्रूण को पीएम के लिए सुठालिया अस्पताल लाया गया था। लेकिन गायनोलोजिस्ट नहीं होने से सिविल अस्पताल ब्यावरा रेफर कर दिया था उन्होंने फिर यही भेज दिया बाद में हमारा डॉक्टर साथ गया था ब्यावरा तब पीएम हुआ है। इस मामले में सीएमएचओ से भी बात की है। पत्र भी लिखा है।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static