महाकाल की नगरी में महापाप, 4 साल की बच्ची से दुष्कर्म की कोशिश के बाद हत्या, मां-बहन और दोस्त की मदद से पड़ोसी ने शव हौज में फेंका

6/9/2023 11:13:19 AM

उज्जैन (विशाल सिंह): उज्जैन में 4 साल की बच्ची की हत्या का खुलासा हो गया। बच्ची की हत्या उसके पड़ोसी ने ही की थी। आरोपी घर के बाहर खेल रही बच्ची को अपने घर ले गया उसके साथ दुष्कर्म करने की कोशिश की। बच्ची ने शोर मचाया तो पकड़े जाने के डर से उसका मुंह दबा दिया जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद शव को बोरे में भरकर नाले में फेंक दिया। इस काम में आरोपी की मदद उसकी मां-बहन और दोस्त ने की। इसके बाद आरोपी ने पुलिस को बच्ची के हौज में डूबने की झूठी कहानी बता दी। लेकिन पीएम रिपोर्ट से मामले का हुआ खुलासा हो गया। पुलिस ने मुख्य आरोपी अजय और इस घिनौने काम में मदद करने वाले विक्की, अजय की बहन रानू और मां मिलन बाई को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना मंगलवार दोपहर 2-3 बजे की है जहां चिमनगंज क्षेत्र स्थित कमल कॉलोनी की रहने वाली घर के बाहर खेल रही 4 साल की बच्ची अचानक गायब हो गई। परिजनों ने इधर उधर तलाश की लेकिन कहीं न मिलने पर पुलिस में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। बच्ची का घर के बाहर खेलने का सीसीटीवी भी सामने आया है। बच्ची का अचानक गायब होना और उसे ढूंढना पुलिस के लिए चुनौती बन गया। एसपी सचिन शर्मा ने मोहल्ले में ही छानबीन कराई। यहां तक कि ड्रोन की मदद से छतों पर सर्चिंग की गई, लेकिन बच्ची का पता नहीं चला। दूसरे दिन बुधवार सुबह तक दो दर्जन से ज्यादा सीसीटीवी खंगाले गए। इनमें एक कैमरे में आरोपी विक्की स्कूटी पर बोरा ले जाते दिखा। इसी बीच शक की सूई अजय की तरफ घूमी पता चला कि घटना वाले दिन अजय का दोस्त  विक्की के घर आया था। इसके बाद पुलिस ने पहले विक्की और उसके साथी अजय से पूछताछ की। अजय बच्ची के पड़ोस में रहता है। पूछताछ की तो सारी सच्चाई सामने आ गई।

एसपी सचिन शर्मा ने बताया कि मंगलवार दोपहर 2 बजे तक बच्ची घर के बाहर खेल रही थी। इसका वीडियो भी सामने आया था। करीब 3 बजे पड़ोस में रहने वाला अजय बच्ची को बुरी नियत से उठा ले गया। उसके साथ गलत काम करने का प्रयास करने लगा। बच्ची के शोर मचाने पर उसने बच्ची का मुंह दबा दिया जिससे उसकी सांसे थम गई। बेटे की करतूत जैसे ही उसकी मां मिलन बाई और बहन रानू को लगी तो उसने दोस्त विक्की ठाकुर को बुला लिया विक्की ने शव को ठिकाने लगाने के लिए पहले उसे घर में पानी से भरी हौज में डूबा दिया। कुछ देर बाद उसे पानी से निकालकर बोरे में बंद किया। शाम करीब 5 बजे विक्की एक्टिवा पर बोरे को रखकर वाल्मीकि धाम के पास नाले पर पहुंचा यहां वह बोरे को नाले में फेंक कर आ गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News