कोरोना इफेक्ट: MP की मस्जिदों में जुमे पर नहीं होगी सामूहिक नमाज

3/26/2020 4:56:38 PM

भोपाल: मध्य प्रदेश में कोरोना वायरस से बचाव के लिए किसी भी मस्जिद में फिलहाल सामूहिक नमाज अदा नहीं की जाएगी। जुमे की नमाज भी घर में अदा करना होगी। भोपाल स्थित एशिया की सबसे बड़ी ताजुल मसाजिद में शहर काजी के हवाले से नोटिस लगा दिया गया है। इसमें कहा गया है कि जुमे सहित कोई भी नमाज फिलहाल मस्जिद में नहीं होगी। इबादतगार मस्जिद की अजान सुनकर अपने घर में रहकर नमाज अदा करें।

प्ररदेश में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए मंदिरों के बाद मस्जिदों में भी सामूहिक इबादत रोक दी गई है। एशिया की सबसे बड़ी मस्जिद ताजुल मसाजिद के साथ प्रदेश की सभी मस्जिदों में फिलहाल नमाज अदा नहीं की जाएगी। नमाज़ के लिए लोग मस्जिदों में न पहुंचे इसलिए शहर काजी और इमाम ने अपील की है कि सब अपने घर पर रहकर ही नमाज पढ़ें। मस्जिद में होने वाली अजान सुनकर घर पर नमाज अदा करें। सभी मस्जिदों के बाहर इस संबंध में नोटिस लगा दिए गए हैं।

मस्जिदों में नोटिस चस्पा
जुमे पर भी अब मस्जिदों में नमाज नहीं होगी। ताजुल मसाजिद में शहर काजी का आदेश लगा है। इसमें कहा गया है कि ताजुल मसाजिद सहित प्रदेश की हर मस्जिद में अगले आदेश तक नमाज नहीं पढ़ी जाएगी।

घर में अदा की जाएगी नमाज
इससे पहले भोपाल और होगंशाबाद के शहर काज़ी ने अपने अपने शहरों में अजान की आवाज सुनकर घर में नमाज अदा करने की अपील लोगों से की थी। यह सब इसलिए किया जा रहा है ताकि सोशल डिस्टेंस बना रहे और हर व्यक्ति घर में सुरक्षित रहें।

वीडियो से की थी अपील
भोपाल शहरकाजी ने एक वीडियो के जरिए चार दिन पहले मुस्लिम भाइयों से अपील की थी। उन्होंने कहा था कि मस्जिद से माइक पर अजान सुनकर जो लोग मस्जिद में हैं वह मस्जिद में नमाज पढ़ें। बाकी जो लोग घर में हैं वो अपने-अपने घरों में नमाज पढ़ें। साथ ही उन्होंने कहा था कि सरकार की तरफ से जो आदेश दिए जा रहे हैं उन्हें मानें, उनका पालन करें। होशंगाबाद में शहरकाज़ी अशफाक अली ने भी अपील में था कि इबादतगार रोजाना पांच वक्त और जुमे की नमाज के लिए मस्जिदों में नहीं आएं। कोरोना से बचाव के लिए अपने-अपने घरों में रहकर ही नमाज अदा करें। शहर काजी और उलेमाओं की बैठक में ये फैसला लिया गया कि फिलहाल मस्जिदों में सामूहिक नमाज नहीं की जाएगी।


Edited By

Jagdev Singh

Related News