अमरनाथ यात्रा में ड्यूटी के दौरान शहीद हुआ दमोह का लाल, दो मासूम बच्चों के सिर से उठा पिता का साया, पसरा मातम

5/24/2022 2:15:24 PM

दमोह(इम्तियाज चिश्ती): अमरनाथ यात्रा में ड्यूटीरत दमोह का बीएसएफ जवान आकिल खान जम्मू कश्मीर में शहीद हो गया। उनकी पोस्टिंग पंजाब के पठानकोट में थी। जहां से अमरनाथ यात्रा में सेवा कार्य का काम मिला था। आकिल खान की मौत की खबर से दमोह में सन्नाटा पसरा हुआ है और परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। आकिल का अंतिम संस्कार उनके गांव में किया जाएगा। आकिल के घर लोगों का तांता लगा हुआ है।

PunjabKesari

भारत माता की सेवा में दमोह के बहुत से जवान देशवासियों की रक्षा के लिए सीमा पर प्रहरी बनकर रक्षा में लगे हुए है। उन्हीं में से एक दमोह निवासी बीएसएफ में आकिल खान जो दमोह के फुटेरा 5 निवासी स्व अख्तर नकीज़ का बेटा और अलीम इंजीनियर के भतीजा था अपने तीन भाइयों में सबसे छोटे थे आक़िब खान जिनकी पोस्टिंग पंजाब के पठानकोट में थी वर्तमान में चल रही अमरनाथ यात्रा में सेवा कार्य में ड्यूटी लगी थी। इस दौरान बीएसएफ जवान आक़िल की आकस्मिक मौत हो गई। जिसकी ख़बर जैसे ही दमोह उनके घर पहुंची तो घर में मातम छा गया।
PunjabKesari

24 मई मंगलवार को जम्मू-कश्मीर से आक़िल खान की मिट्टी वापस दमोह सुबह फुटेरा वार्ड 5 में आयेगी जहां उनको दमोह कब्रस्तान में सुपुर्दे ख़ाक किया जायेगा। बचपन से सेना में जाने इच्छा रखने वाले आक़िल का सपना आज से 14 वर्ष पहले बीएसएफ में 19/02/2008 में ज्वाईनिंग होने के साथ पूरा हुआ था।

PunjabKesari

जब ख़ुशी अपनी मां शकीला बेगम से विदा लेकर दिल में देश सेवा का संकल्प लेकर गये थे आक़िल अपने पीछे भरा पूरा परिवार छोड़कर इस दुनिया को अलविदा कह गए। उनके परिवार में पत्नी शाज़िया खान के अलावा दो साल का बेटा मोहम्मद दानिश और 5 साल की बेटी फानूस खान और मां के साथ दो भाई एक बहिन हैं। सारे दमोह में शोक की लहर है कि आज उन्होंने देश सेवा में लगा अपने बेटे को खो दिया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News