मुर्गी दाना पेस्टिसाइड कंपनी की आड़ में ड्रग बनाने से उठा पर्दा, मेरठ से फैक्ट्री संचालक गिरफ्तार

5/1/2022 2:29:17 PM

इंदौर (सचिन बहरानी): 15 करोड़ रुपए अल्फाजोलम और पेरासिटामोल मिलाकर हूबहू ब्राउन शुगर जैसी दिखने वाली ड्रग केस में मुजफ्फरपुर-मेरठ फैक्ट्री संचालक को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी द्वारा इंदौर में सप्लाई की जा रही थी। इससे पहले भी 5 आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार कर चुकी है। पुलिस मुख्य आरोपी की तलाश कर रही है। दरअसल चंदन नगर थाना पुलिस ने पिछले दिनों एक ऐसे सिंथेटिक केमिकल ड्रग फैक्ट्री पर छापामार कार्रवाई की थी। यहां प्रतिबंधित अल्फाजोलम और पेरासिटामोल पाउडर और अन्य केमिकल मिलाकर हूबहू ब्राउन शुगर की तरह दिखने वाली ड्रग बनाई जा रही थी। 

PunjabKesari

डेढ़ किवटल केमिकल ड्रग्स बरामद 

पुलिस ने मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया था। कार्रवाई के दौरान पुलिस ने फैक्ट्री से लगभग डेढ़ किवटल से भी अधिक मात्रा में इस केमिकल ड्रग को बरामद किया था। जिसमें आरोपी अजय कोमल, चेतन, इमरान और एक अन्य को गिरफ्तार किया था। पूछताछ में आरोपियों ने उत्तर प्रदेश के मेरठ स्थित मुजफ्फरपुर फैक्ट्री संचालक अंकुर चौधरी द्वारा इस केमिकल पाउडर को लाना बताया था।

मुख्य सरगना राघव पुलिस की पहुंच से दूर

पुलिस ने मेरठ में दबिश दी थी तब आरोपी फैक्ट्री बंद कर फरार हो गया था। मुखबीर से जानकारी मिली कि आरोपी कोर्ट में पेश होने वाला है। इससे पहले ही पुलिस ने घेराबंदी कर आरोपी अंकुर चौधरी को गिरफ्तार कर लिया है। उसके बाद न्यायालय में पेश कर आरोपी को 5 दिन के रिमांड पर लिया है। वहीं दूसरी ओर इस गिरोह का मुख्य सरगना, राघव अभी भी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया है। इसके साथ आरोपी के बार में लाखों की संपत्ति की जानकारी जुटाई जा रही है। मुर्गी दाना पेस्टिसाइड कंपनी की आड़ में यह ड्रग बनाने का कार्य किया जा रहा था। 


 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Devendra Singh

Related News

Recommended News