स्कूल के छात्रों ने बना दी फिटकरी की गणेश प्रतिमा, अब विसर्जन करने में नदियां भी होंगी स्वच्छ

9/13/2021 7:40:23 PM

सतना (फिरोज बागी): मध्यप्रदेश के सतना जिले के उत्कृष्ठ विद्यालय के छात्र-छात्राओं ने गणेश चतुर्थी पर अनोखा प्रयोग कर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में कदम बढ़ाया  है। छात्रों ने फिटकिरी की गणेश प्रतिमाओं का निर्माण किया है। जिसमे ना तो बड़ी लागत का झंझट है और ना ही प्रदूषण का खतरा। अब तक आपने मिट्टी, POP, चॉकलेट, लड्डुओं की गणेश मूर्तियों को बनते देखा और सुना होगा। लेकिन सतना के इस स्कूल के स्टुडेंट्स ने तो फिटकरी के गणेश बना डाले। जी हां, स्टुडेंट्स ने 6 इंच की एक गणेश प्रतिमा बनाई है। छात्र छात्राओं द्वारा बताया गया कि इसे बनाने में लागत भी बेहद कम आई।  

PunjabKesari, Madhya Pradesh, Satna, Lord Ganesh of Alum, Ganpati Bappa

फिटकरी से भगवान गणेश की प्रतिमा बनाने वाली छात्रों का कहना है कि जब फिटकरी की गणेश प्रतिमाओं का नदी और तालाब में विसर्जन होगा तो उससे प्रदुषण कम हो जाएगा। इससे पर्यावरण भी साफ सुथरा होगा। कैमिस्ट्री की पढ़ाई करने वाले आधा दर्जन छात्र छात्राओं ने अपने शिक्षक की देख-रेख में ये नवाचार किया है। स्कूल के शिक्षक डॉक्टर रामानुज पाठक के मार्गदर्शन में स्टुडेंट्स ने ये काम कर दिखाया है।

PunjabKesari, Madhya Pradesh, Satna, Lord Ganesh of Alum, Ganpati Bappa

शिक्षक और छात्रों की माने तो मूर्ति निर्माण में लागत कम आती है और पर्यावरण की दृष्टि से भी ये मूर्तियां बहुत ही खास हैं। अब ये मूर्तियां लोग पर्चेज कर घर मे रख रहे है। सबसे अच्छी बात ये है कि फिटकिरी की मूर्ति विसर्जन से नदी- तालाबों का प्रदूषण खत्म होगा वहीं पर्यावरण को प्रदूषण मुक्त बनाये रखने में आसानी होगी।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vikas Tiwari

Recommended News

static