shivraj on casteism violence: सामाजिक समरसता के नए युग की शुरुआत, सरकार दोनों वर्गों पर दर्ज केसों को वापस लेने का करेगी प्रयास: सीएम शिवराज

5/22/2022 6:38:49 PM

ग्वालियर (अंकुर जैन): अल्प प्रवास पर ग्वालियर पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chuohan) ने SC वर्ग और सामान्य वर्ग के पदाधिकारियों से अलग-अलग बैठक कर बात की है। मुख्यमंत्री (CM) के साथ साथ केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (jyotiraditya scinda) और अन्य नेतागण मौजूद थे। सीएम ने सबसे पहले होटल मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट में SC (अनुसूचित जाति) वर्ग के प्रतिनिधियों से चर्चा की। यहां 2 अप्रैल 2018 में हुए जातिगत उपद्रव (casteism violence) के मुद्दे पर चर्चा की गई। SC-ST वर्ग के लोगों से भाजपा (bjp) की जो दूरिया बढ़ गई थीं। उनको दूर किया गया। बैठक के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chuohan) ने कहा कि अनुसूचित जाति वर्ग व सामान्य वर्ग के लोगों से बात हुई है।

PunjabKesari

ग्वालियर-चंबल संभाग में नए युग का शुभारंभ: शिवराज सिंह चौहान 

आज ग्वालियर-चंबल संभाग (gwalior chambal division) में एक नए युग का शुभारंभ होने जा रहा है। सामाजिक समरस्ता बनेगी, दोनों वर्ग ने यह इच्छा प्रकट की है कि समाज में दूरियां नहीं होनी चाहिए। दो अप्रैल की घटना में कई प्रकरण बने थे। दोनों पक्षों पर उनको वापस लिया जाए। आज यहां मेरे मन में संतोष है कि हमारा समाज टूटेगा नहीं बल्कि मिलकर साथ चलेंगे। सीएम शिवराज सिंह चौहान ने पेट्रोल-डीजल के दाम कम (rate cut of petrol diesel) होने पर प्रधानमंत्री को ह्रदय से धन्यवाद दिया हैं। डीजल, पेट्रोल, उज्जवला की रसोई गैस के दाम कम कर आम लोगों को बड़ी राहत पहुंचाई है। इससे कई उत्पादों पर जो महंगाई बढ़ी थी। वह कम हो गई है। प्रधानमंत्री (mp modi) संवेदनशील है। जनता की तकलीफ नहीं देख सकते। इसलिए उन्होंने जो राहत दी है। उसका हम लोग स्वागत करते हैं।

सरकार दोनों वर्गों पर दर्ज केसों को वापस लेने का करेगी प्रयास: मुख्यमंत्री

शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chuohan) ने बैठक में 2 अप्रैल 2018 में हुई जातीय हिंसा (casteism violence) के दौरान दोनों वर्गों के ऊपर दर्ज हुये मुकदमों को वापस लेने की मांग की है। 2 अप्रैल की हिसां की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताते हुए सीएम ने कहा कि मुझे कहते हुए यह संतोष हैं। ग्वालियर से आज हो रहीं हैं। उस घटना से समाज में वैमनस्यता की खाई बनी थी, हमारा समाज टूटेगा नहीं, सरकार (state government) दोनों वर्गों पर दर्ज केसों को वापस लेने का प्रयास करेगी।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

News Editor

Devendra Singh

Related News

Recommended News