MP के लिए जनरल रावत ने देखा था ये ख्वाब! हादसे ने बिखेर दिए सारे सपने...देखिए अनदेखी तस्वीरें

12/9/2021 12:43:18 PM

शहडोल(अजय नामदेव): तमिलनाडु के कुन्नूर में हेलिकॉप्टर हादसे में शहादत पाने वाले देश के पहले CDS जनरल बिपिन रावत मध्य प्रदेश के दामाद थे। शहडोल जिले के सोहागपुर की मधुलिका से 1986 में उनकी शादी हुई थी। इस हादसे में उनकी पत्नी मधुलिका का भी निधन हो गया है। उनका शहडोल से खास लगाव था। वे शहडोल में एक सैनिक स्कूल खोलना चाहते थे। लेकिन इससे पहले ही उनकी सांसों की डोर टूट गई। दामाद और बेटी के निधन से गांव में मातम पसरा हुआ है। मध्य प्रदेश से उनकी बहुत सी यादें जुड़ी हुई हैं।

PunjabKesariPunjabKesari
जनरल रावत का सास से था खास लगाव...
जनरल बिपिन रावत अक्सर शहडोल आते रहते थे। वे अंतिम बार साल 2012 में शहडोल आए थे। उनका अपनी सास से खास लगाव था। उनकी 82 वर्षीय सास प्रभा सिंह अभी जीवित हैं। उनके ससुर कुंवर मृगेंद्र सिंह राजनीति में थे और दो बार विधायक रहे थे।

PunjabKesari
PunjabKesari
बीते कल जब मधुलिका के निधन की जानकारी टीवी पर चल रही थी तो मां को हादसे का पता न चले इसलिए उनके कमरे का टीवी बंद कर दिया हालांकि तब बिपिन रावत की मौत की पुष्टि नहीं हुई थी।

PunjabKesari
PunjabKesari

लेकिन बच्चों के चेहरों पर उदासी देख मां को अंदाजा हो गया कि कुछ तो गलत हुआ है। इसके बाद घर में मातम छा गया। एक साथ बेटी और दामाद को खोना किसी बड़े झटके से कम नहीं था।

PunjabKesari

PunjabKesari
अधूरा रह गया ख्वाब...

बिपिन रावत का शहडोल से खास लगाव था। उनके साले यशवर्धन सिंह ने बताया कि जनरल रावत ने 2022 की जनवरी में शहडोल आने का वादा किया था। वे शहडोल में एक सैनिक स्कूल शुरू करने की योजना बना रहे थे।
PunjabKesari
PunjabKesari
लेकिन 8 दिसंबर की यात्रा पति -पत्नी की अंतिम यात्रा बन गई और उनका ख्वाब अधूरा रह गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News