शिवराज की सरकार में 'महाराज' की जय जयकार, कैबिनेट में शामिल हुए 41% पूर्व कांग्रेसी

7/2/2020 5:52:59 PM

भोपाल: मध्य प्रदेश में आज मंत्रिमंडल का विस्तार हुआ। शिवराज सिंह चौहान के सीएम बनने के बाद 71 दिन बाद आखिरकार उनके मंत्रिमंडल का गठन हो गया। खास बात यह रही कि इसमें ज्योतिरादित्य सिंधिया का पलड़ा भारी रहा और सिंधिया खेमा फायदे में हैं। इसके साथ ही अगर दूसरे पहलू पर गौर किया जाए तो शिवराज मंत्रिमंडल में 41% मंत्री पूर्व कांग्रेसी है और वर्तमान में विधायक नहीं है।

PunjabKesari

दरअसल, शिवराज मंत्रिमंडल में आज 28 मंत्रियों को शपथ दिलाई, जिनमें 9 सिंधिया खेमे से हैं, जबकि 7 शिवराज सरकार में पहले मंत्री रह चुके हैं। शपथ लेने वाले 28 नेताओं में से 20 को कैबिनेट और 8 को राज्य मंत्री बनाया गया है। 4 नेता ऐसे हैं, जो तीन महीने पहले तक कमलनाथ सरकार में मंत्री रहे थे।

PunjabKesari
 

कमलनाथ सरकार को अलविदा और शिवराज सरकार को सत्ता में लाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को आज के मंत्रिमंडल के पूरा पूरा लाभ हुआ है। समीकरण के हिसाब से देखा जाए तो शिवराज की टीम में अब शिवराज सिंह के समेत 34 मंत्री हैं। इनमें 59% मंत्री 2018 में भाजपा के टिकट पर चुनाव जीते हुए हैं। जबकि 41% यानी 14 मंत्री पूर्व कांग्रेसी हैं। खास बात यह है कि इनमें से अभी एक भी विधायक नहीं है। ये मध्यप्रदेश के इतिहास में पहली बार हुआ है, जब 14 मंत्री विधायक नहीं हैं।

PunjabKesari

वहीं अगर दूसरे पहलू से देखा जाए तो आज के मंत्रिमंडल विस्तार में सिंधिया समर्थकों और कांग्रेस से भाजपा में आए नेताओं को सबसे ज्यादा फायदा हुआ है। कमलनाथ सरकार में 6 मंत्री सिंधिया समर्थक थे। सिंधिया समर्थक इन विधायकों को मिला मंत्री पद कमलनाथ सरकार में सिंधिया खेमे के 6 विधायक मंत्री थे। जिनमें गोविंद सिंह राजपूत, तुलसी सिलावट, प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, प्रभुराम चौधरी और महेंद्र सिंह सिसोदिया शामिल थे। शिवराज सरकार में भी ये सभी के सभी अब कैबिनेट मंत्री बन चुके हैं।

PunjabKesari

वहीं इनमें से दो नेता तुलसी सिलावट और राजपूत पहले ही कैबिनेट में शामिल हो चुके हैं। इनके अलावा 5 और नेता राज्यवर्धन सिंह दत्तीगांव, बृजेंद्र सिंह यादव, गिर्राज दंडोतिया, सुरेंद्र धाकड़ और ओपीएस भदौरिया गुरुवार को शिवराज की टीम में मंत्री बने हैं। इससे साफ होता है कि कमलनाथ सरकार में सिंधिया खेमे से 6 नेता मंत्री थे, जबकि शिवराज सरकार में उनके खेमे से 11 नेता मंत्री बन चुके हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Edited By

meena

Recommended News

static