गणगौर उत्सव में साबूदाने की खिचड़ी खाने से 65 लोग फूड पॉजनिंग का शिकार, 15 गंभीर मरीज जिला अस्पताल रैफर

3/28/2023 1:38:09 PM

खरगोन: खरगोन जिले के ऊन में गणगौर उत्सव के दौरान माता के विसर्जन के आयोजन में साबूदाने की खिचड़ी खाने से 65 लोग फूड पॉयजनिंग के शिकार हो गए। एक साथ इतनी बडी संख्या मरीजों की खबर मिलने से ग्रामीणों में हडकंप मच गया। सभी मरीजों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए कलेक्टर शिवराजसिंह वर्मा ने सीएमएचओ डीएस चौहान और डॉक्टरों की टीम को ऊन पहुंचने के निर्देश दिए। फिलहाल सभी मरीजों की स्थिति स्थिर बताई जा रही है। फिलहाल करीब 65 मरीजों में से 35 मरीजों को देर रात इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई। 15 बीमार लोगों का ऊन के अस्पताल में ईलाज किया जा रहा है। जबकि 15 गंभीर मरीजों को खरगोन जिला अस्पताल रेफर किया गया है।

ये है पूरा मामला
ऊन में गणगौर उत्सव के दौरान माता का विसर्जन था। इस दौरान साबूदाने की खिचड़ी का स्टॉल लगाया गया था। साबूदाने की खिचड़ी खाने के करीब एक घंटे बाद ग्रामीण जिसमें बडी संख्या में बच्चे भी शामिल थे फूड पॉयजनिंग का शिकार हो गए। उल्टी दस्त के शिकार खरगोन जिला अस्पताल में भर्ती ग्रामीण इन्दू प्रजापत ने बताया कि गणगौर विसर्जन के दौरान साबूदाने की खिचड़ी खाई थी। अचानक उल्टी दस्त होने लगे। करीब 65 लोग फूड पॉयजनिंग के शिकार हुए। खिचड़ी के कारण ही उल्टी दस्त हो रहे हैं। इधर जिला अस्पताल के सिविल सर्जन डॉ अमरसिह चौहान का कहना है कि ऊन में फूड पॉयजनिंग की शिकायत के बाद जिला अस्पताल में 15 मरीजों को लाया गया। इलाज के बाद सभी की हालात स्थिर है। 15 मरीजों का इलाज चल रहा है और करीब 35 मरीजों की छुट्टी कर दी गई है। मरीजों में बच्चे भी शामिल है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News