अस्पताल से नहीं मिला शव वाहन, 4 साल की बच्ची के शव को कंधे पर रखकर पैदल चला चाचा

6/8/2022 4:11:24 PM

छतरपुर(राजेश चौरसिया): अस्पताल में 4 साल की बेटी की मौत के बाद शव वाहन न मिलने के बाद एक परिजन मजबूरी में शव को कंधे पर उठाकर 4 किलोमीटर पैदल ले जाना पड़ा। दरअसल जिला अस्पताल में एक मासूम बच्ची की मौत हो गई थी जिसके बाद उसके परिजन बकस्वाहा तक तो शव ले आए लेकिन बकस्वाहा से 4 किमी दूर स्थित गांव तक शव ले जाने के लिए उन्हें शव वाहन नसीब नहीं हुआ। आखिरकार बच्ची के चाचा ने शव को कंधे पर रखा और पैदल चलना शुरु कर दिया। बाद में नगर परिषद द्वारा शव वाहन की व्यवस्था कर शव को गांव तक पहुंचाया गया।

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक बकस्वाहा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में समीप ग्राम पोंडी निवासी लक्ष्मण अहिरवार की 4 वर्षीय पुत्री राधा को बुखार के चलते भर्ती कराया गया था। बच्ची की हालत गंभीर होने के कारण चिकित्सकों ने उसे जिला अस्पताल रैफर कर दिया। जहां जिला अस्पताल में उपचार के दौरान राधा की मौत हो गई। जिला अस्पताल से बच्ची का शव बक्सवाहा तक तो पहुंच गया लेकिन बकस्वाहा से पौंड़ी तक जाने के लिए परिजनों को शव वाहन नहीं मिल पा रहा था।

PunjabKesari

शव वाहन की तलाश में काफी देर तक परिजन परेशान होते रहे लेकिन जब शव वाहन नहीं मिला तो बच्ची के चाचा ने मासूम के शव को कंधे पर रखकर पैदल चलना शुरु कर दिया। जब लोगों ने यह दृश्य देखा तो खबर आग की तरह फैल गई। बाद में नगर परिषद द्वारा तत्काल शव वाहन की व्यवस्था करते हुए आधे रास्ते से शव को वाहन में रखवाकर गांव भेजा गया।

PunjabKesari

वहीं SDM राहुल सिलाडिय़ा का कहना है कि मामला मारे संज्ञान में आया है, भविष्य में इस तरह के घटनाक्रम की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए जिम्मेदार अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए जाएंगे साथ ही इस मामले में दोषी कर्मचारियों के खिलाफ कार्यवाही को जाएगी।

PunjabKesari


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News