विश्वास सारंग की सद्बुद्धि के लिए कांग्रेस ने करवाया यज्ञ, कहा- ये तो जवानी में ही सठिया गए

8/1/2021 6:11:59 PM

भोपाल(इजहार खान): शिवराज सरकार के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने बढ़ती महंगाई के लिए देश के पहले प्रधानमंत्री प. जवाहर लाल नेहरु को जिम्मेदार ठहराया है। मंत्री सारंग के इस बयान कांग्रेस ने बेतुका बयान बताया है और उनकी सद्बुद्धि के लिए यज्ञ का आयोजन करवाया। कांग्रेस के सचिव मनोज शुक्ला ने आज छोला स्थित खेड़ापति श्री हनुमान मंदिर में प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री और नरेला के विधायक विश्वास सांरग की सद्बुद्धि के लिए विशेष यज्ञ कराया। इसमें पुरोहितों के दल ने मंत्रोच्चार करते हुए आहूतियां दीं।

PunjabKesari

शुक्ला ने कहा कि इससे साफ होता है कि सारंग जवानी में ही सठिया गए हैं। उनकी बुद्धि पर तरस आता है और उनका इलाज कराना भी बेहद जरूरी है। ऐसा बयान देकर उन्होंने न सिर्फ महंगाई से त्रस्त आम गरीब जनता का मजाक उड़ाया बल्कि अपने राजनीतिक आकाओं को खुश करने के चक्कर में अपना बौद्धिक दिवालियापन भी जगजाहिर कर दिया। तीन बार के विधायक से ऐसे कुतर्क की उम्मीद तो नहीं की जा सकती हैं। नरेला की जनता अब ऐसा जनप्रतिनिधि चुनने की गलती नहीं करेगी।

PunjabKesari

शुक्ला ने कहा कि किसी घर का बेटा जब जवानी में ही इतना सठिया जाए तो उसकी सद्दुद्धि के लिए यज्ञ करना चाहिए। सीएम शिवराज सिंह चौहान को भी चाहिए कि वे सारंग को मंत्री पद से मुक्त उनका अच्छे डॉक्टर से इलाज कराएं। न केवल इलाज कराएं। उन्हें  इतिहास और अर्थशास्त्र के साथ-साथ राजनीति और समाज शास्त्र की शिक्षा भी दिलवाएं। आज की महंगाई के लिए वे यदि पं. नेहरू को दोषी मानते हैं तो इससे साफ है कि उन्होंने इन सभी शिक्षाओं की बेहद जरूरत है। उन्होंने कहा पढ़कर डिग्रियां लीं, इसकी भी जांच होनी चाहिए। वास्तव में वे मंत्री पद के लिए भी योग्य नहीं हैं।

PunjabKesari

शुक्ला ने कहा कि वे मंत्री विश्वास सांरग को पं. नेहरू की लिखी पुस्तक ‘डिस्कवरी ऑफ इंडिया’ भेजेंगे ताकि उन्हें पता चल पाए कि वे इस लायक नहीं है कि पं. नेहरू पर ऐसी टिप्पणी करें। शुक्ला ने कहा कि आज नेहरू द्वारा तैयार किए गए औद्योगिक अधोसंरचना के कारण भारत का पूरी दुनिया में विशिष्ठ स्थान है। दुनिया में आई कई तरह की मंदियों के दौरान भी भारत की अर्थव्यवस्था प्रभावित नहीं हुई। कोरोना जैसी महामारी का सामना भी उन्हीं संसाधनों से देश कर पाया है जो पं. नेहरू और उनके बाद की सरकारों ने तैयार किया था। देश की जनता इस बात को बेहतर तरीके से जानती है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static