‘कक्का’ जी ने केंद्रीय कृषि मंत्री को लिया आड़े हाथ, बोले- मांगे पूरी नहीं हुई तो UP अगला मिशन होगा

1/2/2022 12:57:19 PM

इंदौर (सचिन बहरानी): तीनों किसान बिल वापिस होने और किसान आंदोलन खत्म होने के बाद इंदौर पहुंचे राष्ट्रीय किसान महासंघ के अध्यक्ष शिवकुमार कक्काजी पांच दिवसीय मध्यप्रदेश दौरे पर है। कक्काजी ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर के लिए कसा तंज, साथ ही प्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल को बताया झूठा, साथ ही आने वाले समय मे अगर हमारी मांगे नहीं मानी तो उत्तरप्रदेश चुनाव में हम कूच करने से भी नही चुकने वाले। किसान आने वाले 5 राज्यों के चुनाव में किसको भी वोट दे हमें उसे कोई मतलब नहीं है।

PunjabKesari,

मध्यप्रदेश दौरे के दौरान वे कई किसानों से चर्चा करते हुए किसानों की  समस्याओं को जानेंगे। इसी दौरे के दौरान  इंदौर पहुंचे जहाँ रीगल स्थित गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और मीडिया से चर्चा करते हुए किसान आंदोलन को लेकर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर पर जमकर निशाना साधा। जब उनसे पूछा गया कि केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने बिल वापिस लाने का बोला रहे है तो उन्होंने कहा की वह इस प्रकार के विवादित बयान देते रहते हैं। उनसे 11 बार हमारी बात हुई। उन्हें तो कोई अधिकारी ही नहीं है और आगे बढ़ेंगे कैसे बढ़ेंगे वो हम भी देखेंगे। हम 703 किसानों की शाहदत दे चुके हैं, तो 378 दिन आंदोलन चला सकते हैं। हमे लगता है की कोई भी सरकार भारत को आने वाली या वर्तमान सरकार किसानों के मामले में निर्णय लेने के पहले कई बार विचार करना होगा। किसानों से किये गए वादों को लेकर कहा गया की अगर कोई भी सरकार वादों से मुकरती है तो हमें मिशन यूपी जाने में कोई दिक्कत नहीं होगी। हालांकि सरकार किये गए वादों को लिखित में दे चुकी है वही सभी प्रकरणों को वापस लेने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है।

PunjabKesari, Madhya Pradesh, farmer leader, Kakka ji, farmer movement, Modi government

किसान नेता कक्का जी ने कहा की हमारा आंदोलन हमेशा गैर राजनीतिक रहा है मेरी तरफ से आंदोलन शुरू करने से पहले तीन बातों पर विचार किया गया था। पहला इस आंदोलन का नाम संयुक्त किसान मोर्चा रहेगा, आंदोलन गांधीवादी रहेगा, और आंदोलन के मंच पर किसी भी राजनीतिक पार्टी को जगह नहीं दी जाएगी। किसान जिस सरकार को वोट देना चाहे दे सकता है। मध्यप्रदेश में किसानों को खाद को लेकर पूछे गए सवाल पर कहा की लगातार कृषि मंत्री झूठ बोल रहे है मध्यप्रदेश में 20 लाख मैट्रिक टन खाद किसानों को चाहिए। जबकि 11 लाख कुल मिला है। ये विधानसभा में उन्होंने स्वीकार किया है, केंद्र और राज्य में भी सरकार भाजपा की है इसके बावजूद भी खाद की सप्लाई करने में सरकार अक्षम है ये काफी शर्मनाक है। वहीं कालीचरण के गांधीजी के बयान को लेकर कहा की उनका बयांन दुखद है। गांधीजी के देश में इस उन्हें राष्ट्रपिता उनको कहा गया है। उनके लिए जो अशब्द कहे जा रहे है उसकी में घोर निंदा करता हूं। किसानों के हितैषी कक्काजी जी ने इंदौर में कई बड़े भाजपा नेताओं पर निशाना साधा और अपनी बात मीडिया के माध्यम से उन नेताओं तक पहुचाने का प्रयास किया है। देखना होगा कि अब सरकार में बैठे भाजपा नेताओं का क्या जवाब इस ओर होगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

Vikas Tiwari

Related News

Recommended News