कोरोना काल में किसानों को शिवराज सरकार की बड़ी सौगात, दी ये राहत

6/12/2020 3:32:27 PM

भोपाल(इजहार हसन खान): मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार ने प्रदेश के 22 लाख किसानों को बड़ी राहत देने वाला फैसला लिया है। प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों द्वारा वितरित खरीफ और रबी की फसल के अल्पकालीन ऋण जमा करने की अंतिम तिथि को 31 अगस्त कर दिया है। सरकार के इस फैसले से किसानों को काफी राहत मिली है और उनके चेहरे पर खुशी साफ दिखाई दे रही है।

PunjabKesari

दरअसल सहकारिता विभाग के अंतर्गत प्रदेश की 4523 प्राथमिक कृषि साख सहकारी समितियों से प्रदेश के 22 लाख किसानों ने खरीफ़ 2019 और रवि 2019-20 के लिए अल्पकालीन ऋण लिया था। जिसमें से खरीफ़ 2019 के ऋण को 31 मई तक चुकाना था तो वहीं रवि 2019-20 के ऋण को 15 जून तक चुकाना था। सरकार ने कोरोनावायरस काल को देखते हुए यह फैसला लिया कि अब इन किसानों को अपने दोनों ऋण 31 अगस्त तक चुकाने होंगे। सरकार के इस फैसले से प्रदेश के उन 22 लाख किसानो को लाभ होगा जिन्होंने अल्पकालीन ऋण लिया था और कोरोना संकट काल में उत्पन्न परिस्थितियों की वजह से वो उसको समय पर जमा नहीं कर पा रहे थे, अब वो ओवरड्यू होने से बच जाएंगे। इसको लेकर सहकारिता विभाग के प्रमुख सचिव उमाकांत उमराव ने आयुक्त सहकारिता एवं पंजीयक सहकारी संस्थाएं मध्यप्रदेश को पत्र लिखकर शासन के फैसले से अवगत करा दिया है।

PunjabKesari


इस संबंध में मध्य प्रदेश के सहकारिता मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बताया कि किसानों के हित में कोरोना महामारी को देखते हुए जो किसान ऋण जमा नहीं कर पा रहे हैं वो किसान ओवरड्यू ना हो जाए और उन्हें और उन्हें बिना ब्याज के ऋण मिलता रहे इस उद्देश्य को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने यह तारीख बढ़ाई है। आपको बता दें कि मध्य प्रदेश की 4523 प्राथमिक कृषि साख समितियों द्वारा प्रदेश के 22 लाख किसानों को अल्पकालीन फसल ऋण 0% ब्याज दर पर उपलब्ध कराया गया है जिसका सरकार पर 74 करोड़ का अतिरिक्त भार है।


Edited By

meena

Related News