भोपाल में महान साधु-संत सम्मेलन कल, CM कमलनाथ रहेंगे मौजूद

9/16/2019 1:08:31 PM

भोपाल (इजहार हसन खान): भोपाल में मंगलवार को साधु-संतों का एक बड़ा समागम होने जा रहा है। इसके लिए प्रदेशभर से साधु-संतों का भोपाल के मिंटो हॉल में तांता लगना शुरु हो गया है। इस समागम में करीब एक हजार साधु-संतों के हिस्सा लेने की संभावना है। इसमें मठ-मंदिर और साधु-संतों की समस्याओं पर बात होगी। मुख्यमंत्री कमलनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, आचार्य प्रमोद कृष्ण, मठ मंदिर सलाहकार समिति के अध्यक्ष सुबुद्धानंद, नर्मदा न्यास के अध्यक्ष कंप्यूटर बाबा, अध्यात्म मंत्री पीसी शर्मा इसमें मौजूद रहेंगे।

PunjabKesari

रविवार को मीडिया से चर्चा के दौरान अध्यात्मक मंत्री पीसी शर्मा ने रविवार को पत्रकार वार्ता में बताया कि प्रत्येक जिले से साधु-संत समागम में हिस्सा लेंगे। इनके ठहरने का प्रबंध रघुवंशी धर्मशाला में किया गया है। समागम मंगलवार को सुबह 10 से दोपहर एक बजे तक मिंटो हॉल में होगा। इसमें संत समाज अपनी बात सरकार के सामने रखेगा और मुख्यमंत्री इनसे अपनी अपेक्षाएं साझा करेंगे। संतों की जो भी मांग होगी, उसे सरकार पूरा करेगी। 

PunjabKesari

वहीं नर्मदा संरक्षण कंप्यूटर बाबा ने बताया कि समागम के लिए हर जिले से 10 से 25 संतों को बुलाया गया है। सोमवार को शाम पांच बजे से सर्वदर्शन समिति की बैठक होगी। इसमें जो निर्णय लिए जाएंगे, उन्हें संत समागम में सरकार के सामने रखा जाएगा। वैसे कमलनाथ सरकार साधु-संतों का सम्मान कर रही है। कंप्यूटर बाबा ने शिवराज पर वार करते हुए कहा कि तत्कालीन सरकार में हम लगातार पंचायत बुलाने की मांग करते रहे लेकिन शिवराज चौहान ने एक नहीं सुनी। प्रदेश भर में भारी बारिश को लेकर पीसी शर्मा ने कहा कि भिंड जिले में 62 आर्मी के जवानों को लगाया गया है, 45 हजार लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। फसलों के नुकसान को लेकर 100 करोड़ रुपया किसानों को बांटा जा चुका है और फसलों के नुकसान का सर्वे जारी है। आपदा प्रबंधन के तहत 325 करोड़ रुपये खर्च किये जा चुके हैं।
 


Edited By

meena

Related News