रामहि केवल प्रेमु पिआरा। जानि लेउ जो जान निहारा॥ IPS अमित सिंह ने चौपाई के जरिये दिया प्रेम का संदेश

8/8/2020 11:21:14 PM

जबलपुर (विवेक तिवारी): रामहि केवल प्रेमु पिआरा। जानि लेउ जो जान निहारा॥ रामचरित मानस की ये चौपाई अपने आप में सम्पूर्ण है, और इस चौपाई के भाव को जो जीवन में उतार ले, वह खुद के मन के अंदर राम को पाएगा, राममंदिर शिलान्यास के अवसर पर इस चौपाई के जरिये प्रेम का संदेश दिया है। आईपीएस ऑफिसर अमित सिंह इस चौपाई के जरिये वे प्रेम का संदेश देते नजर आए, उन्होंने ये चौपाई फेसबुक में पोस्ट की है इस चौपाई के अर्थ तक हम पहुंचे तो इसका अर्थ है श्री रामचन्द्रजी को केवल प्रेम प्यारा है, जो जानने वाला हो या फिर जानना चाहता हो, वह जान ले।

PunjabKesari, IPS Amit Singh, message, love through a square, bhopal, jabalpur, Lord Ram, Ayodhya, Madhya Pradesh, Punjab kesari

प्रेम से परिपूर्ण संदेश के जरिए सद्भावना की ओर चलें...
आईपीएस अमित सिंह ने रामचरितमानस की इस चौपाई के जरिए प्रेम का संदेश दिया है। उनके भाव को अगर हम समझें तो राम को जानना है तो मन में प्रेम का होना भी जरूरी है। यानी कि भगवान को आप चाहें 56 प्रकार का भोग लगाएं, चाहे इत्र चंदन लगाएं, चाहे बहुमूल्य वस्तुओं से सजाएं, किंतु अगर मन में निश्छल प्रेम नहीं है, तो राम को ना हम प्राप्त होंगे और ना ही राम हमें प्राप्त होंगे। हमें अगर राम को प्राप्त करना है तो प्रेम को आधार बनाना होगा। यह चौपाई सिर्फ भारत वासियों के लिए नहीं है। इस चौपाई के भाव संपूर्ण विश्व के लोगों के लिए हैं। जो प्रेम को आधार बनाकर आगे बढ़ेंगे वही जीवन में सफल भी होंगें। यह दर्शन नहीं है ये सिद्धांत है, जिसे जीवन में अपनाना होगा, छल कपट के भाव के जरिए हम आगे नहीं बढ़ सकते हैं। राम मंदिर का निर्माण शुरू हो चुका है। लेकिन हमें अब राम को अपने मन में बसाना होगा और राम के जो संदेश खासकर प्रेम के संदेश को भी अंदर मन में रखना होगा। तभी हमें राम मिलेंगे।

PunjabKesari, IPS Amit Singh, message, love through a square, bhopal, jabalpur, Lord Ram, Ayodhya, Madhya Pradesh, Punjab kesari

फेसबुक में लगातार सामाजिक संदेश देते हैं अमित सिंह... 2009 बैच के आईपीएस ऑफिसर अमित सिंह फेसबुक के माध्यम से लगातार सामाजिक संदेश दे रहे हैं। कोरोना काल में भी लगातार लोगों को जागरूक कर रहे हैं। उनकी फेसबुक पोस्ट का अगर अध्ययन किया जाए। तो लोगों के लिए एक अच्छी राह मिल रही है। और उनके प्रशंसक वर्ग भी उनकी पोस्ट को लगातार सराह रहे हैं। इस वक्त वे भोपाल में एआईजी एडमिन के पद पर पदस्थ हैं। ऐसे में वे लगातार समय का सदुपयोग करते हुए दर्शन और अध्यात्म के साथ-साथ सामाजिक मुद्दों पर भी लगातार लिख रहे हैं, और लोगों को संदेश दे रहे हैं।


Vikas kumar

Related News