श्योपुर किसान महापंचायत में बोले टिकैत, सरकार गलतफहमी में ना रहे...

3/8/2021 8:36:38 PM

श्योपुर (जेपी शर्मा): राकेश टिकैत ने श्योपुर में आयोजित किसान महापंचायत में कहा कि तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का ये आंदोलन समय के साथ खत्म हो जाएगा अगर ये सरकार सोच रही है तो गलतफहमी में ना रहे।  

PunjabKesari

ये आंदोलन तब तक चलेगा, जब तक बिल वापस नहीं होता। अभी तो दिल्ली ने ट्रैक्टर क्रांति देखी है, यदि सरकार ना मानेगी, तो हमारी क्रांति देखेगी। हम संसद कूच करेंगे, जिसमें देशभर से किसान आएगा। वह मध्य प्रदेश के श्योपुर जिले में आयोजित करीब 15 से 20 हजार किसानों की किसान महापंचायत को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसान को अपनी जमीन औलाद से भी अधिक प्यारी होती है।

किसान जब जीवित रहते अपनी जमीन औलाद के नाम नहीं कर सकता है तो फिर वह अपनी जमीन को जानबूझकर किसी अंजान को कैसे सौंप देगा? किसान अपनी एक इंच जमीन भी कॉरपोरेट घरानों को नहीं देने वाले हैं।

सरकार कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलित किसानों पर मुकद्दमे दर्ज कर और नोटिसों का डर दिखा रही है, लेकिन किसानों को डरने की जरूरत नहीं है, जो किसान नोटिस से डरता है, उसे आंदोलन में आने की जरूरत नहीं है।

किसान नेता गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि आजादी के समय देश की जीडीपी में कृषि का योगदान 60 प्रतिशत था, जो अब घटकर 10 प्रतिशत पहुंच गया है। अब सरकार की योजना इसे 6 प्रतिशत तक पहुंचाने की है। ये लड़ाई अस्तित्व और खेती को बचाने की है।

सरकार किसानों को खेतिहर मजदूर बनाने की तैयारी में है, जिस कारण किसानों को मजबूरी में खेती छोड़नी पड़ेगी। इससे देश में भुखमरी बढ़ेगी उन्होंने कहा कि यदि लड़ाई हारे जो जिंदगी हार जाएंगे इसलिए लड़ाई को जीतने तक लड़ेंगे।

 


Content Writer

shahil sharma

Related News