नाराज नेताओं को लेकर भाजपा में टेंशन, खुद सीएम शिवराज लगा रहे फोन

6/1/2020 7:14:29 PM

मध्यप्रदेश डेस्क (हेमंत चतुर्वेदी): उपचुनाव को लेकर तैयारियों में जुटी मध्यप्रदेश भाजपा के सामने इस वक्त कई चुनौतियां मुंह बाय खड़ी है। इन चुनौतियों में एक है, उसके नाराज नेता। दरअसल भाजपा द्वारा दलबदलुओं को मौका देने के बाद कई विधानसभा सीटों पर उसके नेताओं का राजनीतिक भविष्य संकट में आ गया है। जिसे देखते हुए उनकी नाराजगी की खबरें सामने आ रही है। भाजपा इस चुनौती इस उबरने के लिए पूरी तरह मैदान में उतर गए है और खुद सीएम शिवराज मोर्चा संभाले नजर आ रहे हैं। 

PunjabKesari, BJP, SHIVRAJ, BY ELECTION, LEADER, CANDIDATE, CONGRESS


बात चाहे हाटपिपल्या से दीपक जोशी के बारे में करें, या फिर ग्वालियर से जयभान सिंह पवैया की। बात चाहे सांची से शेजवार पिता पुत्र की बात करें, या फिर प्रदेश की मुख्य राजनीति में एंट्री की संभावना तलाश रहे अनूप मिश्रा की। भाजपा में बड़े पैमाने पर कांग्रेस नेताओं की एंट्री और उन्हें विधायकी का टिकट मिलने की स्थिति ने संबंधित नेताओं को परेशानी में डाल दिया है, और उन्हें खुद का राजनीतिक भविष्य संकट में नजर आने लगा है। वहीं इसे मौका के तौर पर भांपते हुए कांग्रेस ने संबंधित नेताओं पर डोरे फेंकने भी शुरू कर दिए हैं, और उपचुनाव मे वह इसका लाभ लेने की कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती, लिहाजा यह मामला भाजपा के लिए टेंशन बढ़ाने का काम कर सकता है। 

PunjabKesari, BJP, SHIVRAJ, BY ELECTION, LEADER, CANDIDATE, CONGRESS

डैमेज कंट्रोल के लिए उतरी भाजपा...  
संबंधित नेताओं की नाराजगी को दूर करने के लिए भाजपा ने मोर्चा संभाल लिया है, और खुद सीएम शिवराज सिंह चौहान इसके लिए मशक्कत करते नजर आ रहे हैं। बीते दिनों सीएम ने इस संबंध में सुहास भगत के साथ लंबी बैठक कर इन्हें मनाने का मसौदा तैयार किया था। खबरों का यह भी कहना है, कि सीएम फोन पर ऐसे कई नेताओं से चर्चा कर चुके हैं, जिनमें रामलाल रौतेल, गौरीशंकर शेजवार, लाल सिंह आर्य, पारुल साहू, जयभान सिंह पवैया, और माया सिंह शामिल हैं। इसके अलावा पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेताओं को भी संबंधित नेताओं को मनाने की जिम्मेदारी दी गई है और सुहास भगत के साथ वीडी शर्मा कई नेताओं के साथ मुलाकात कर चुके हैं। 

PunjabKesari, BJP, SHIVRAJ, BY ELECTION, LEADER, CANDIDATE, CONGRESS

हाईकमान का भी ले सकते हैं सहयोग... 
सूत्रों का दावा है, कि अब तक भाजपा के प्रदेश नेतृत्व द्वारा संपर्क साधने पर सभी नेताओं का सकारात्मक रवैया सामने आया है, और सभी नेताओं ने यह विश्वास दिलाया है कि वह भाजपा को छोड़कर कहीं नहीं जाएंगे। लेकिन अगर ऐन चुनाव के वक्त तक ऐसा कुछ नजर आता है। तो पार्टी हाईकमान का सहयोग लिया जाएगा, और संबंधित नेताओं को आश्वासन दिलवाया जाएगा। इसके साथ ही संगठन के साथ निगम मंडल में भी नाराज नेताओं को एडजस्ट करने की पूरी तैयार है, जिसे जल्द ही अमल में लाया जाएगा। 

 


 


Vikas kumar

Related News