विजयवर्गीय ने फिर दोहराया, चुनाव लड़ने की मेरी इच्छा ही नहीं थी, बड़े नेता हो गए हैं, अब हाथ जोड़ने कहां जाएंगे

9/27/2023 2:39:53 PM

इंदौर(सचिन बहरानी): मध्यप्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर में विधानसभा 1 के उम्मीदवार भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने फिर दोहराया है कि मेरी चुनाव लड़ने की इच्छा ही नहीं थी। उन्होंने इंदौर में मीडिया से बात करते हुए कहा कि एक माइंड सेट होता है ना अपने को तो जाना है भाषण देने है। बड़े नेता हो गए हैं अब हाथ जोड़ने कहां जाएंगे तो भाषण देने और निकल जाना।

PunjabKesari

दरअसल, कैलाश विजयवर्गीय सहित बड़े नेताओं को नाम घोषित होने के बाद सबको चौका दिया है। जहां एक और कांग्रेस का पूरा गणित गड़बड़ा गया है। वही भाजपा में और उनके कार्यकर्ताओं में एक नया जोश देखने को मिल रहा है। कैलाश विजयवर्गीय ने कहा हमने तो प्लान यह बनाया था कि रोज 8 सभा करना है। 5 हेलीकॉप्टर से और 3 कार से इस प्रकार 8 सभा करनी है और प्लान भी बन गया था पर आप जो सोचते है वह होता कहां है। भगवान की जो इच्छा होती है वही होता है। भगवान की इच्छा थी कि मैं चुनाव लड़ूं एक बार फिर जनता के बीच में जाऊं, मुझे अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है कि मैं उम्मीदवार हुं मुझे लग ही नहीं रहा है कि मुझे टिकट मिल गया और मैं उम्मीदवार बन गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News