सालों बाद PAK की जेल से रिहा हुआ MP का राजू, थर्ड डिग्री टार्चर के कारण खो बैठा अपनी आवाज

1/7/2021 11:16:42 AM

शहडोल(अजय नामदेव): कैदियों की अदला-बदली को लेकर हुए समझौते के बाद पाकिस्तान की जेल से मध्य प्रदेश के शहडोल जिले का रहने वाला 30 वर्षीय राजू  को रिहा कर दिया गया है। अब उसे अंतरार्ष्ट्रीय अटारी सीमा से भारत अपने वतन लाया गया है। 17 साल पहले अपने काम की तलाश में सूरत व  मुंबई गया राजू  गलती से पाकिस्तान चला गया था, जिसके बाद पाकिस्तान की पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। इस दौरान उसे कई तरह की यातनाएं दी गई, जिससे उसकी मानसिक हालात ठीक नहीं है। भारत सरकार की पहल पर सोमवार को रिहा कर दिया गया है जिसे अब शहडोल कलेक्टर के निर्देशन पर पुलिस टीम और परिजन अमृतसर से शहडोल लाया जाएगा।

PunjabKesari

शहडोल जिले के गोहपारु  थाना क्षेत्र के बरेली गांव का रहने वाला 30 वर्षीय राजू गुप्ता 17 साल पूर्व रोजगार की तलाश में सूरत और मुम्बई की खाक छान रहा था, जो अचानक पाकिस्तान चला गया, जहां उसे जेल भेज दिया गया, जिसका कुछ समय तक तो पता नहीं चला जिसके कुछ वर्षों बाद राजू के परिजनों कों पता लगा की राजू पाकिस्तान की जेल बंद है। परिजनों का राजू को अपने वतन वापस बुलाने के लिए 6 माह पहले शहडोल एसपी से मदद की गुहार लगाते हुए वपास बुलाने की मांग की थी, जिसके बाद उसे भारत सरकार ने 
सोमवार को अपने वतन बुला लिया, जिसकी जानकारी शहडोल कलेक्टर को दी गई। जिसे अब शहडोल कलेक्टर के निर्देशन पर पुलिस टीम और परिजन अमृतसर से शहडोल लाया जाएगा ।

PunjabKesari

राजू के वापस अपने वतन आने के इंतजार उसकी मां की आंखे पथरा गई, जब से राजू बाहर गया था , तब से उसकी मां उसके आने का बेसबरी से इंतजार कर रही थी। अब जब उनके परिजनों को पता लगा कि राजू पाकिस्तान से अपने वतन आ गया है और जल्द ही अपने घर वापस आ जाएगा, उनके खुशी का ठिकाना नहीं है।

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक पाकिस्तान जेल में राजू को थर्ड डिग्री का टॉर्चर दिया जाता था, कई तरह के जतन झेले, उसके साथ पाकिस्तानी पुलिस लगातार मारपीट करती रही,  जिसकी वजह से उसकी मानसिक हालत भी बिगड़ चुकी है। फिलहाल राजू कुछ भी बताने में असमर्थ है, क्योंकि उसके साथ हुए टॉर्चर ने उसकी आवाज तक छीन ली है। लगभग 15 सालों से पाकिस्तान की जेल में बंद था राजू के मुताबक उसे पाकिस्तान गए 10-15 साल हो गए थे और वह तभी से वहां की जेल में बंद था।

PunjabKesari

आज उसे पाकिस्तान की तरफ से रिहा गया है। उसे अटारी-बाघा बॉर्डर भारतीय रेंजरों के हवाले किया गया, राजू से पूछा गया कि वह पाकिस्तान कैसे पहुंचा, तो इस सवाल के जवाब में कभी वह कहता कि ट्रेन से गया, तो कभी पैदल ही पाकिस्तान जाने की बात कह रहा है, अभी तक यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि राजू किस अपराध में पाकिस्तान की जेल में 13 वर्ष तक बंद रहा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

meena

Related News

Recommended News