छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में 80 साल पुराना पुल टूटा, दर्जनों गांवों से संपर्क टूटा

8/6/2020 3:52:27 PM

छत्तीसगढ़: बिलासपुर के जुहली-ठरकपुर में अंग्रेजों के जमाने का पुल टूटा, दर्जनों गांवों से संपर्क टूटा छत्तीसगढ़ बिलासपुर जिले के मस्तूरी क्षेत्र के जुहली-ठरकपुर ग्राम को जोड़नेवाली पुल कई दिन पहले धराशायी हो चुका है। लेकिन अभी तक कोई जिम्मेदार मौके पर सुध लेने नहीं पहुंचा है। पुल टूटने के बाद एकतरफ जहां अलग-अलग गांवों का सड़क सम्पर्क टूट गया है, तो वहीं कई गांव जुहली, सोठी, पिपरानार, मड़ई, खम्हरिया, कुली उनी, कुकदा गांव के खेतों में पानी की समस्याएं बढ़ गई है। साथ ही दर्जनों गांव के लोगो के आवागमन भी बंद हो गया है।

PunjabKesari, Chhattisgarh, Bilaspur, Juhli, Tharakpur, river bridge broken, canal, farmer, farming

जानकारी के अनुसार बीते 1 अगस्त की रात्रि में जुहली से ठरकपुर नहर पुल के टुटने की खबर से खम्हरिया क्षेत्र के किसानों को चिंता में डाल दिया। जिस नहर पर पुल टुटा है उस पुल से किसानों के खेतों में धान के लिए पानी जाता था। जो आगे बनियाडीह के डेम में जाकर मिलता था। जानकारी के अनुसार की मानें तो यह पुल 70-80 वर्षों पहले अंग्रेजों के शासनकाल में बना था। खेतों में पानी के साथ-साथ यह पुल अवागमन का बेहतरीन विकल्प था। आसपास के ग्रामीण अब मजबूरन वैकल्पिक मार्गों से आवाजाही करेंगे। इन क्षेत्रों में इस बार आवश्यकता से कम बारिश हुई है। लिहाजा पुल टूटने के कारण सिंचाई व्यवस्था फिलहाल प्रभावित हो रही है। लेकिन जिम्मेदार जलसंसाधन विभाग के अधिकारी सामने आने से बच रहे हैं। वहीं पुल टूटने से नहर भी प्रभावित हो गई है और खेती के इस सीजन में किसान खेती के लिए पानी के लिए मोहताज हो रहे हैं। लेकिन उसके बावजूद जिम्मेदार सुध लेने में कोई दिलचस्पी नहीं ले रहे हैं।


Vikas kumar

Related News