बहादुर बेटी ने साहस और निडरता से मनचलों को सिखाया था सबक, वुमेंन डे पर बनी एक दिन की कलेक्टर

3/8/2021 3:54:00 PM

कटनी(संजीव वर्मा): कटनी जिले की एक बहादुर बेटी अर्चना केवट को दिन एक दिन का कलेक्टर बनाया गया है। यह निर्णय कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने लिया है। आज अर्न्तराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर अर्चना को कलेक्टर बनने का अवसर मिला और वे इस एक दिन कटनी जिले की कलेक्टर बनी। महिला सशक्तिकरण की दिशा में महिलाओं को जागरूक करने के उद्देश्य से प्रशासन ने यह कदम उठाया है।

PunjabKesari

साहस और निडरता से आपराधिक तत्वों का सामना करते हुए उन्हें सलाखों के पीछे पहुचाने वाली जिले के कैमोर क्षेत्र की अर्चना केवट को कटनी कलेक्टर प्रियंक मिश्रा ने एक दिन का सांकेतिक कलेक्टर बनाया है । महिला सशक्तिकरण की मिसाल बनी अर्चना को उसकी बहादुरी के लिए मुख्यमंत्री शिवराजसिंह भी अपने कटनी दौरे के दौरान सम्मानित कर चुके है। आपको बता दें कि अर्चना ने अपने साहस और निडरता के दम पर आपराधिक तत्वों का सामना करते हुये उन्हें सलाखों तक पहुंचाने का साहसिक काम किया है। अर्चना ने कुछ दिन पूर्व मनचलों से दो बच्चियों को बचाते हुए उन्हें पीटा और पुलिस के हवाले कर दिया था। 

PunjabKesari

8 मार्च को महिला अंतर्राष्ट्रीय दिवस पूरे विश्व में मनाया जाता है आज त्यौहार के रूप में पूरा विश्व इस दिवस को मना रहा है। अलग-अलग देशों में अलग-अलग राज्यों में और हमारे देश में अलग-अलग तरीकों से महिला सम्मान समारोह आयोजित किए जाते हैं इसको देखते हुए ही हमारे जिले में प्रशासन ने यह निर्णय लिया मुझे व प्रशासन को ऐसा महसूस हुआ कि जो हमारे आसपस सड़कों पर जो महिलाएं बहादुरी का कार्य कर रही हैं। समाज उन्हें आईकान के रूप में देखेगा इसी को देखते हुए यह निर्णय लिया गया कि हमारे जिले में अर्चना ने इतनी बहादुरी का काम किया था जिसको माननीय मुख्यमंत्री जी ने भी सम्मानित किया तो क्यों ना हम 1 दिन उस बहादुरी को सेलिब्रेट करे ।

PunjabKesari

एक दिन की कटनी कलेक्टर बनी अर्चना ने खुशी जाहिर करते हुए अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर सभी को शुभकामनाएं दी और महिलाओं को संदेश देते हुए कहा की अगर उनके साथ ऐसा कुछ होता है या कोई भी घटना होती है तो उन्हें उसके खिलाफ आवाज उठाना चाहिए ना कि चुपचाप सहना चाहिए । अर्चना ने कार्यभार संभालते ही टाईम लिमिट की बैठक में विभिन्न विभागों का न केवल रिव्यू किया बल्कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस पर आयोजित विशेष ग्राम सभा के अलावा आडिटोरियम में महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित जिला स्तरीय कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में शामिल हुई । एक दिन की कलेक्टर अर्चना ने जहाँ विभिन्न शासकीय कार्यों को संभाला तो वही वन स्टॉप सेंटर और बालिका ग्रह का निरीक्षण भी करेंगी।

 

 

 


Content Writer

meena

Related News