सीएम शिवराज का बड़ा ऐलान, गरीब परिवारों को 3 महीनें तक मिलेगा मुफ्त राशन

4/19/2021 4:31:17 PM

भोपाल(इजहार हसन खान): मध्य प्रदेश में बढ़ते कोरोना संक्रमण के बीच सीएम शिवराज सिंह चौहान ने आज बड़ी घोषणाएं की। उन्होंने कलेक्टर कमीश्नरों की मीटिंग में घोषणा की कि राज्य में सभी गरीब परिवारों को 3 महीनें के लिए फ्री में राशन मिलेगा। उन्होंने कहा कि 3 महीने का निशुल्क राशन देने का निर्देश जारी कर रहा हूं यह राशन बिल्कुल नि:शुल्क दिया जाएगा। राशन की दुकान पर बार बार आना जाना बंद होगा 3 महीने का राशन एक बार दे देंगे निशुल्क राशन गरीबों को मिल जाएगा गरीबों का आने जाने का चक्कर खत्म हो जाएगा।

सीएम की कलेक्टर कमीश्नर की बैठक के कुछ मुख्य बिंदू
सीएम ने कहा कि अगली व्यवस्था नए अस्पताल खड़े करने की है बड़े जिलों में मैंने पहले ही कह दिया है इंदौर भोपाल ग्वालियर जबलपुर 2-2 हजार बिस्तर के हमे अस्पताल त्यार करने है। इंदौर में बहुत अच्छी पहल हुई है राधा स्वामी सत्संग व्यास के द्वारा आप समाजसेवियों से चर्चा कीजिए! जो सरकारी भवन है उनका इस्तेमाल करिए मैं छोटे जिलों में भी कह रहा हूं यह समय है। हम कुछ नवाचार करें 100 - 200 बिस्तर हम खड़े कर दें कोविड केयर सेंटर से उपर की व्यवस्था भी हम करे!

ऑक्सीजन बेड जितना बढ़ा सकते हैं बढ़ाएं बड़े शहरों में मित्रों की संख्या बढ़ाने की मैंने बात की है जितनी और संस्थाएं हो सकती हैं उनसे सहयोग मांगे। क्योंकि लोगों के सहयोग से ही हम इस महामारी का मुकाबला कर सकते है। कई जगह लोग आगे आ रहे हैं आज 12:30 बजे में जो आर्मी के प्रतिनिधि हैं मैं उनसे मिल रहा हूं। आर्मी हॉस्पिटल के जब बिस्तर खाली हैं हम उनका भी इस्तेमाल कर सकेंगे।केंद्र सरकार के जितने संस्थान हो सकते हैं उनका क्या उपयोग हो सकता है वह भी देखें राज्य सरकार के भवनों का क्या उपयोग हो सकता है उन्हें भी देखें!

काढ़ा फिर 2 करोड़ परिवारों में बांटा जाएगा इम्यूनिटी बढ़ाने की कोशिश भी हमारी जारी रहेगी। ठीक एडवाइज ना होने के कारण दवाई समय पर ना लेने के कारण कई बार संक्रमित व्यक्ति को अस्पताल में आना पड़ता है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे अस्पताल में न आए। जहां जनता कर्फ्यू है वहां वह व्यक्ति रह जाए इसलिए हम 30 अप्रैल तक इस चेन को तोड़ दे!

सीएम ने मीटिंग में कहा कि यह युद्ध का समय है हमें युद्ध स्तर पर काम करना होगा इसलिए हमे स्वंसेवी संस्थाओं के साथ मिलकर नए बिस्तर खड़े करने है। यह महामारी कब तक चलेगी इसका कोई ठिकाना नहीं है हम रोकने की भरपूर कोशिश करेंगे। यह मध्य प्रदेश और भारत अपनी मां है इस में रहने वाले लोगों की जिंदगी बचाना हमारा धर्म है। यही मां आज कह रही है मेरे बेटा बेटियों मेरे दूध की लाज रखना यह दूध की लाज रखने का वक्त है।

मैं जानता हूं आप कई समस्याओं से जूझ रहे हैं लेकिन कभी कभी जीवन में ऐसा मौका आता है संकट बढ़ा है इस चुनौती को अफसर में बदलिए और काम करते रहिए। मैं भी दिन और रात काम करुंगा आपकी काम में जुटे रहिए। एक के बाद एक व्यवस्था में खड़ी करते जाएं इनोवेशन करते जाएं जनता स्वयं सेवी संस्थाओं का सहयोग ले अलग-अलग व्यवस्थाएं करने के लिए भी लोग जुटाएं। हमें समाज को इस लड़ाई में भागीदार बनाना है बिना समाज के सहयोग के यह जंग नहीं जीती जा सकती। अगर यह समाज हमारे साथ खड़ा हो जाए क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप और उसके अलावा भी आप सबका साथ लीजिए! अलग-अलग संस्थाओं के मेरे पास फोन आ रहे हैं वह भी आगे आ रहे हैं।

सीएम ने आगे कहा कि उनका पूर्ण सहयोग ले मुझे पूरा विश्वास है हम जीतेंगे, चुनौती कठिन है। लेकिन हम विजय होंगे मुझे यह विश्वास है मुझे विश्वास है जनता की सुविधा के लिए मैं कुछ और भी फैसला करूंगा। उन्होंने कहा कि मैं आज निर्देश दे रहा हूं कि 3 महीने का राशन निशुल्क दिया जाएगा इसके लिए एक मुफ्त वितरण की व्यवस्था की जाए। ताकि वह गरीबों तक पहुंच जाए और उनका आना-जाना बंद हो बाकी अगर कुछ आवश्यक कदम उठाने होंगे तो वह मैं उठाऊंगा। एक चीज हम और करेंगे ऑक्सीजन की व्यवस्था करने में, मैं जी जान से लगा हूं।

ऑक्सीजन की समस्या को लेकर बोले...
सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सुबह से लेकर रात तक मैं बात करता हूं कहीं टैंकर रुक जाता है इस तरह की समस्याएं आ सकती हैं। कल दो तीन राज्यों में दिक्कत आ गई थी हमारे टैंकर खड़े रहे। मुझे मुख्यमंत्रियों से बात करनी पड़ी जितनी उपलब्धता हो सकेगी उपलब्ध कराने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। लेकिन उपलब्धता से बड़ा चैलेंज है ऑक्सीजन का वितरण और हमारा कर्तव्य है कि हम किसी की सांस की डोर टूटने ना दें! इसलिए समय पर न्यायपूर्ण वितरण कोई भी बड़ा जिला किसी दूसरे की रोकेगा नहीं। काढ़ा फिर 2 करोड़ परिवारों में बांटा जाएगा इम्यूनिटी बढ़ाने की कोशिश भी हमारी जारी रहेगी। ठीक एडवाइज ना होने के कारण दवाई समय पर ना लेने के कारण कई बार संक्रमित व्यक्ति को अस्पताल में आना पड़ता है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे अस्पताल में न आए। जहां जनता कर्फ्यू है वहां वह व्यक्ति रह जाए इसलिए हम 30 अप्रैल तक इस चेन को तोड़ दे!

टेस्ट होम आइसोलेशन  होम आइसोलेशन में जगह नहीं है तो कोविड केयर सेंटर,  कोविड केयर सेंटर की छूट दे रहा हूं, आपको जितनी चाहिए अनुमति है। आप कोविड केयर सेंटर बनाए राशि आपके पास है जरूरत पड़ने और और राशि भेजूंगा। कोविड केयर सेंटर में स्टाफ की भर्ती में कंजूसी ना करें जो जैसा मिले वह व्यक्ति बस उपयुक्त होना चाहिए और जो गाइडलाइन है उसके अतिरिक्त आप उपयोग करें! इसके साथ ही कोविड केयर सेंटर में चाय नाश्ते की व्यवस्था करें!

कुछ जिलों ने बहुत अच्छी पहल की है कोविड केयर सेंटर में ऑक्सीजन बेड भी रख दिए है वैसे हो सके तो आप वैसा करें। आप सभी जानते हैं अस्पताल के बिस्तर भर चुके हैं हमें किसी भी कीमत पर संक्रमण की चेन को तोड़ना है यह व्यवस्था अगर हम करेंगे तो मुझे पूर्ण विश्वास है अस्पताल आने वालों की संख्या घटेगी डिस्चार्ज होने वालों की संख्या बढ़ेगी। यह हर जिलों का टास्क होना चाहिए मेरे जिले में संक्रमण ना बड़े इसके लिए मैं जी जान एक कर दूंगा। उसके बाद अगली व्यवस्था नए अस्पताल खड़े करने की है,बड़े जिलों में मैंने पहले ही कह दिया है इंदौर,भोपाल ग्वालियर,जबलपुर में 2-2 हजार बिस्तर के हमे अस्पताल तैयार करने है।


Content Writer

meena

सबसे ज्यादा पढ़े गए

Recommended News

static