अरुण यादव बोले- देश में एक हिटलर बैठा है, उसे सबक सिखाना है, राम मंदिर किसी की बपौती नहीं...

1/20/2021 3:26:25 PM

खंडवा (निशात सिद्दीकी): MP कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष और पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण यादव ने केन्द्र की मोदी सरकार पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने नरेन्द्र मोदी का नाम न लेते हुए कहा कि ‘एक हिटलर देश में बैठा है जो अपनी मनमानी से सारे काम करना चाहता है’। किसान आंदोलन में सहयोग करने वाले संगठनों और पत्रकारों को मिले एनआईए के नोटिस पर उन्होंने सवाल करते हुए कहा कि क्या स्वतंत्र एजेंसी को कैप्चर कर लिया गया है, पर कहा कि देश की स्वतंत्र एजेंसी NIA और CBI जैसी अन्य स्वतंत्र एजेंसियां मोदी सरकार के इशारे पर कार्य कर रही है। यह देश का बड़ा दुर्भाग्य है, लेकिन जब तक तीनों काले कानून वापस नहीं लिए जाते तब तक किसानों के साथ यह संघर्ष जारी रहेगा।  

PunjabKesari, bribe, bribecase, punjabkesari, corruption, panna, lokayukt

दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में कांग्रेस ने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव के नेतृत्व में ट्रेक्टर मार्च निकला। ट्रेक्टर मार्च में हजारों की संख्या में कांग्रेस कार्यकर्त्ता ट्रेक्टर पर सवार होकर पहुंचे। रैली में किसान आंदोलन के समर्थन में नारे भी लगे। किसान आंदोलन के बहाने पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने प्रधानमंत्री मोदी और शिवराज पर निशाना साधा। अरुण यादव ने मंच से कहा कि शिवराज यह सुन लें अगर किसानों की बात नहीं सुनी गई तो दोबारा नकलीपन से जो वापस सत्ता में आए, जैसे 2018 में सत्ता से उखड पर फेंका था वैसे ही 2023 में भी सत्ता से बेदखल कर देंगे। 

PunjabKesari,  bribe, bribecase, punjabkesari, corruption, panna, lokayukt

अरुण यादव ने खंडवा में एक मासूम के साथ हुए दुष्कर्म का मामला उठाते हुआ कहा कि कथत मामा कहता हैं, कि में बेटियों की सुरक्षा करना चाहता हुआ लेकिन पुरे भारत में मध्यप्रदेश में ही सबसे ज्यादा दुष्कर्म के मामले सामने आए हैं। अरुण यादव ने किसानों को एएनआई का नोटिस दिए जाने पर प्रधानमंत्री पर हमला बोला। यादव ने बिनाम लिए कहा कि एक हिटलर देश में बैठा है जो अपनी मनमानी से सारे काम करना चाहता है।  स्वतंत्र एजेंसी को कैप्चर कर लिया गया है।  देश की स्वतंत्र एजेंसी एनआईए और सीबीआई जैसी अन्य स्वतंत्र एजेंसियां मोदी सरकार के इशारे पर कार्य कर रही है यह देश का बड़ा दुर्भाग्य है, लेकिन जब तक तीनों काले कानून वापस नहीं लिए जाते तब तक किसानों के साथ यह संघर्ष जारी रहेगा। वहीं कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजयसिंह द्वारा एक लाख रूपए की राशि दिए जाने के बाद जब अरूण यादव से मंदिर निर्माण के लिए सहयोग राशि दिए जाने का सवाल पूछा गया तो उन्होंने कहा कि क्यों नहीं देंगे, राम मंदिर उनकी बपौती हैं क्या। भगवान राम सबके आराध्य हैं और मंदिर निर्माण के लिए हम सब भी चंदा देंगे और सहयोग करेंगे। बतादें कि आज खंडवा में कृषि कानून के विरोध में कांग्रेस ने एक ट्रैक्टर रैली का आयोजन किया था।


Vikas Tiwari

Related News