व्यापारियों एवं तुलावटियों के विवाद से अन्नदाता परेशान! हड़ताल खत्म न करने पर अड़े गल्ला व्यापारी

5/11/2022 7:52:42 PM

छतरपुर(राजेश चौरसिया): छतरपुर जिले के हरपालपुर में बीते दिनों से नगर की कृषि उपज मंडी में व्यापारियों एवं तुलावटियों की परिश्रमिक दरों के निर्धारण को लेकर चल रहे विवाद एवं व्यापारियों की हड़ताल खत्म कराने के लिये मंडी में एक बैठक का आयोजन किया गया।

सयुक्त संचालक मंडी बोर्ड सागर एस के कुमरे सचिव सुरेंद्र खरे लेखपाल गौरव राजवात द्वारा मंडी परिसर में गल्ला व्यापारियों एवं तुलावटियों के साथ बैठक आयोजन किया गया। बैठक में सयुक्त संचालक एस के कुमरे ने व्यापारियों एवं तुलावटियों दोनों पक्षों से बातचीत कर हड़ताल खत्म करने का आग्रह किया।

गल्ला व्यापारी से कहा कि अभी मंडी का सीजन चल रहा हैं ऐसे आप लोगों द्वारा अधोषित हड़ताल करने से किसान उपज बेचने को परेशान हो रहा हैं। जो आप लोगों ने अपनी मांगों के सम्बंध में ज्ञापन सौपा उस  के निराकरण के लिये 15 दिनों का समय दो मंडी बोर्ड इस विवाद हल निकालेगा। चाहे एमडी मंडी बोर्ड भोपाल इस मामले जल्द एक टीम बना कर इस का निराकरण करेंगे

PunjabKesari

आप लोग हड़ताल खत्म कर मंडी की डाक नीलामी दुबारा शुरू करें। जब मामला आप लोगों की तरफ से उच्य न्यायालय जबलपुर में है तो न्यायालय के आदेश का इंतज़ार करो ऐसे आप लोगों द्वारा हड़ताल करने से किसान अपनी उपज बेचने को परेशान हो रहा हैं।

किसानों को कोई असुविधा नहीं होनी चाहिए जब 1972 से तुलावटियों को 20 पैसा व्यापारी एवं 20 पैसा कुल 40 पैसा प्रति सैकड़ा हम्मली मिलती चली आ रही तो ऐसे मामले का निराकरण करने का 15 दिनों का समय दे।

बैठक में दोनों पक्षों द्वारा एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगाये गए। तुलावटियों ने आरोप लगाया कि मंडी हड़ताल के बाद भी व्यापारी सीधे माल खरीद कर गाड़ियां लोड कर बाहर भेज रहे हैं। इन हड़ताल को अवैधानिक घोषित करे प्रशासन

करीब एक घंटे चली बैठक में सयुक्त संचालक के निवेदन  समझाई के बाद भी गल्ला व्यापारी हड़ताल खत्म करने पर राजी हुये बैठक छोड़कर चले गये। आज तीसरे दिन हड़ताल से मंडी में सन्नटा पसरा रहा साथ ही मंडी को लाखों रूपयों के राजस्व का नुकसान हो रहा हैं।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News