13 महीने बाद अंधे कत्ल का पर्दाफाश, दोस्तों ने ही ली थी जान

5/20/2022 11:49:31 AM

इंदौर(सचिन बहरानी): इंदौर के बेटमा थाना क्षेत्र में सालभर पहले हुए अंधे कत्ल का पर्दाफाश पुलिस ने कर दिया है। दरअसल, अप्रैल 2021 को बेटमा पुलिस को जंगल में एक नर कंकाल मिलने की सूचना मिली थी जिसकी जानकारी जुटाने के दौरान पुलिस को साइंटिफिक टेस्ट कराने तक की आवश्यकता आन पड़ी थी। इधर, इस मामले में मृतक की शिनाख्ती के बाद पुलिस ने अब दो कातिल दोस्तों को गिरफ्तार कर लिया है जो वारदात को अंजाम देने के बाद से ही फरार चल रहे थे।

PunjabKesari

बताया जा रहा है कि बेटमा में रहने वाला जंगम सिंह पिता नागु भूरिया जंगल में अपने दो दोस्त गेंदालाल मीणा और जगदीश वसुनिया के साथ शराब पार्टी मनाने के लिए गया था। उसी दौरान मृतक का विवाद शराब पीने की बात को लेकर दोनों दोस्तों से हो गया था। इसके बाद आरोपी गेंदालाल और जगदीश ने जंगम सिंह के प्राइवेट पार्ट पर वार कर उसे मौत के घाट उतार दिया। वही उसकी पहचान न हो सके इसके लिए दोनों ने उसके पहचान पत्र उसकी जेब से निकाल लिए और गांव छोड़कर भाग खड़े हुए। इधर, कंकाल मिलने की घटना के बाद पुलिस की जांच शुरू हुई मृतक जंगम सिंह के बेटे मांगीलाल ने कपड़ों के आधार पर अपने पिता की पहचान तो कर ली लेकिन पुलिस को इस बात को पुख्ता करने के लिए डीएनए जांच की आवश्यकता पड़ी। जिसके बाद रिपोर्ट आते ही ये बात साबित हो गई कंकाल जंगम सिंह का ही है।

PunjabKesari

इसके बाद पुलिस जांच शुरू तो पता चला आख़री बार जंगम सिंह को उसके दोस्तों गेंदालाल और जगदीश के साथ देखा गया था जो सिंधीपुरा के खेत मे शराब पार्टी मनाने गए थे। इसके बाद पुलिस ने शक के आधार पर जब आरोपियों के घर पर दबिश तो पता चला कि वो घटना के बाद से ही गांव छोड़कर भाग गए हैं। इसके बाद दोनों की तलाश शुरू की गई आखिरकार पुलिस को अब दोनों आरोपी गेंदालाल और जगदीश को पकड़ने में सफलता मिली और उन्हें हिरासत में लेकर पूछताछ की गई तो दोनों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया जिसके बाद दोनों को गिरफ्तार कर उन पर हत्या का प्रकरण दर्ज किया गया है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News