वृद्धाश्रम में बेटा बनकर पहुंचे कलेक्टर तो बुजुर्ग माताओं ने लुटाया प्यार, हाथ चूमे तो भावुक हो गए

5/9/2022 4:40:27 PM

जबलपुर(विवेक तिवारी): कहते हैं खुद प्यार लुटायोगे तो तुमको भी प्यार मिलेगा और यह प्यार लुटाने वाला कोई प्रशासनिक अधिकारी हो तो बात और भी अच्छी हो जाती है क्योंकि उससे मानवीय पहलू का पता चलता है और यही प्रेम की डोर आगे बढ़ती जाती है। जबलपुर कलेक्टर इलैया राजा टी इसी प्रेम की परिभाषा को लेकर जबलपुर में अपनी बेमिसाल कार्यशैली के साथ आगे बढ़ते जा रहे हैं, पद का बिल्कुल भी घमंड नहीं और एक आम व्यक्ति जैसे साधारण, जैसा नाम वैसे दिलों के राजा।

PunjabKesari

जी हां इसका उदाहरण देखने को मिला जबलपुर वृद्धाश्रम में। जहां पर कलेक्टर इलैयाराजा टी पहुंचे तो वृद्धाश्रम में मौजूद माताओं ने उन पर ऐसा प्यार बरसाया कि कलेक्टर भी भावुक हो गए, माहौल और भी सुंदर तब नजर आया जब एक वृद्ध माता ने कलेक्टर साहब के हाथों को चूम कर अंग्रेजी में बातचीत करना शुरू कर दिया। वे लगातार इलैयाराजा टी से अंग्रेजी में बातचीत कर रही थी। दरअसल, कलेक्टर डॉक्टर इलैयाराजा टी विश्व रेडक्रास दिवस के मौके यहां पहुंचे थे जहां क्राइस्ट चर्च स्कूल में पढ़ी 72 साल की माता प्रलोचन कौर के पास जब कलेक्टर हालचाल जानने पहुंचे तो दोनों के बीच इंग्लिश में लंबी बातचीत हुई। आश्रम के पदाधिकारियों से माताजी ने कलेक्टर को चाय-नाश्ता कराने को कहा। कलेक्टर के आश्रम विजिट से बुजुर्गों में एक अलग उत्साह नजर आया सभी की आंखें भर आई। बुजुर्गों ने कलेक्टर को आर्शीवाद देते हुए लंबी आयु की कामना की।

PunjabKesari

कलेक्टर इलैयाराजा टी ने आश्रम के अधिकारियों से कहा कि गर्मी के मौके पर यहां रहने वाले वृद्धजनों को पानी से लेकर अन्य किसी भी तरह की असुविधा न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाए। कलेक्टर ने कहा कि बुजुर्गो की छाया ही परिवार को घर बनाती है। घर के बुजुर्ग न केवल प्रेरणा का स्त्रोत होते हैं बल्कि उनका अनुभव ही परिवार के लिए सफलता की सीढ़ी का काम करता है। उन्होंने कहा कि बुजुर्गो का सम्मान करना हमारी नैतिक जिम्मेदारी है।

PunjabKesari

मेडिकल स्थित इस वृद्ध आश्रम को किस तरह से और भी अच्छा बनाया जा सकता है, इसी सोच को लेकर कलेक्टर ने आश्रम के कोने कोने को देखा और यहां पर मौजूद तमाम वृद्ध जनों से बातचीत की। सब का आशीर्वाद ग्रहण किया और अधिकारियों को निर्देश दिया कि सबसे बेहतर वृद्ध आश्रम यहां होना चाहिए। इस दिशा में सभी काम करें जाहिर सी बात है जब जनहितकारी सोच के साथ एक प्रशासनिक अधिकारी आगे बढ़ता है तो रास्ते भी खुलते जाते हैं। इलैयाराजा टी भी ऐसे ही अधिकारी हैं वे जो कहते हैं उसको करते भी हैं। उनकी विजिट फोटोग्राफी तक सीमित नहीं रहती। वे मीडिया की चकाचौंध से भी दूर रहते हैं लेकिन उनकी कार्यशैली की चमक नजर आ ही जाती है। जब वे बेहतरीन तरीके से अपने कामों को करते हैं। अब वृद्ध आश्रम में भी कलेक्टर ने पहुंचकर इसको संवारने का बीड़ा उठा लिया है जाहिर सी बात है यहां पर भी अब और भी अच्छा माहौल नजर आएगा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News