तीसरी लहर से लड़ने के लिए तैयार इंदौर! 1250 बिस्तरों के साथ राधा स्वामी कोविड सेंटर में मिलेगी हर सुविधा

1/3/2022 1:02:42 PM

इंदौर(गौरव कंछल): इंदौर में कोरोना के मरीजों के उपचार के लिए देश के दूसरे सबसे बड़े कोविड केयर सेंटर जो कि राधा स्वामी सत्संग परिसर में स्थापित है, उसे पुनः शुरू किया जा रहा है। इस सेंटर में 1250 बिस्तरों की क्षमता है। प्रथम चरण में इसे 650 बिस्तरों के साथ शुरू किया जा रहा है। इस सेंटर के लिए की जा रही तैयारियों का सांसद  शंकर लालवानी, इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष जयपाल सिंह चावड़ा, कलेक्टर मनीष सिंह, विधायक महेंद्र हार्डिया तथा मालिनी गौड़, पूर्व विधायक राजेश सोनकर, गौरव रणदिवे, मधु वर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधियों ने निरीक्षण किया। बताया गया कि इस कोविड केयर सेंटर में सभी जरूरी सुविधाएं रहेंगी। मरीजों को स्वच्छ वातावरण उपलब्ध रहेगा। इलाज के लिये पर्याप्त व्यवस्था रहेगी। विशेष, मेदांता, चोइथराम सहित अन्य बड़े अस्पतालों के चिकित्सक प्रतिदिन आकर मरीजों का उपचार करेंगे। मरीजों के चाय-पानी, दूध, नाश्ता, भोजन आदि के लिये पर्याप्त व्यवस्था भी इस सेंटर में रहेगी। सर्दी के मौसम को देखते हुए मरीजों को अतिरिक्त रूप से रजाई भी उपलब्ध कराने की व्यवस्था की गई है। 

PunjabKesari

इंदौर के कोविड केयर सेंटरों में रहेगी ढाई हजार बिस्तरों की क्षमता
कोरोना की तीसरी लहर को देखते हुए इंदौर में मरीजों के उपचार के लिए व्यापक व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जा रही है। इसके तहत जिले में विकेंद्रीकृत व्यवस्था करते हुए विभिन्न जगहों पर कोविड केयर सेंटर बनाए जा रहे हैं। इन सेंटरों में ढाई हजार से अधिक बिस्तरों की क्षमता रहेगी। बताया गया कि इंदौर के इंडेक्स अस्पताल में बनाये जा रहे कोविड केयर सेंटर में 500 बिस्तर, सेवा कुंज अस्पताल में 300, राधा स्वामी सत्संग परिसर में 1250 तथा देपालपुर, महू और सांवेर में 100-100 बेड्स की क्षमता रहेगी।  मांगलिया में भी 50 बिस्तर क्षमता का कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है। इंदौर ग्रामीण क्षेत्र के मरीजों के लिये राऊ के ट्रेनिंग सेंटर में 100 बिस्तरों की क्षमता वाला कोविड केयर सेंटर बनाया जा रहा है।

PunjabKesari

बताया गया कि इन कोविड केयर सेंटरों में ऐसे मरीजों को भर्ती किया जाएगा जिनके घरों में पर्याप्त जगह नहीं है। इसके साथ ही ऐसे मरीज जिनके घरों में पर्याप्त जगह है। उन्हें होम आइसोलेशन की परमिशन रहेगी। होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों को टेली कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपचार सहित अन्य मार्गदर्शन उपलब्ध कराया जाएगा। इसके लिए एआईसीटीएसएल में जिला स्तरीय कोविड कमाण्ड सेंटर स्थापित किया जा रहा है। होम आइसोलेशन के मरीजों को इलाज के लिए मेडिकल किट भी दी जाएगी। उन्हें रोज टेलीफोन के माध्यम से सम्पर्क कर उपचार सहित अन्य अपेक्षित मार्गदर्शन उपलब्ध कराया जायेगा।

 


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News