2 करोड़ की ठगी का शिकार हो गए ग्वालियर के मशहूर डॉक्टर, अपनों ने की गहनों के साथ हेराफेरी

10/19/2021 12:52:50 PM

ग्वालियर(अंकुर जैन): ग्वालियर के प्रतिष्ठित डॉ वीरेंद्र माहेश्वरी अपनों से ही 2 करोड़ रुपए की ठगी के शिकार हो गए। ठगी का यह सिलसिला 5 साल से जारी था लेकिन भरोसे और विश्वास के कारण डॉक्टर साहब को पता ही नहीं चला। आखिरकार जब पैसे और जेवर नहीं मिले तो डॉक्टर साहब पडाव पुलिस के पास पहुंचे और मामला दर्ज कराया। पुलिस ने मामले में एक महिला सहित चार लोगों को नामजद किया गया है।

दरअसल शहर के पड़ाव थाना क्षेत्र में स्थित डॉ विमल माहेश्वरी का माहेश्वरी नर्सिंग होम है। यह शहर का प्रतिष्ठित नर्सिंग होम माना जाता है। इसके संचालक डॉ वीरेंद्र माहेश्वरी का संपर्क अजीत जैन और विमल जैन के साथ था। डॉ वीरेंद्र माहेश्वरी ने अपने कीमती गहने अजीत जैन विमल जैन अनी कांत जैन और वर्षा जैन को दिए थे। उस समय सोना सस्ता था।  जैन बंधुओं ने चिकित्सक को भरोसा दिलाया था कि सोने के भाव में इजाफा होते ही वो उनके जेवर बेच देंगे और मुनाफे की रकम सहित जेवर की मूल राशि भी दे दी जाएगी। चिकित्सक इन क्योंकि परिचित लोगों पर ज्यादा भरोसा करते थे। इसलिए उन्होंने अपने जेवर 2016 से लेकर अब तक उनको देते रहे। इसकी कुल कीमत दो करोड़ से ज्यादा बताई गई है। जब डॉक्टर ने जैन बंधुओं से अपने जेवर अथवा पैसे की मांग की तो वह टालने लगे। आखिरकार परेशान होकर डॉक्टर वीरेंद्र माहेश्वरी ने चारों लोगों के खिलाफ अमानत में खयानत और धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। फिलहाल इस मामले में किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Related News

Recommended News