कांग्रेस हो या बीजेपी नहीं बदले किसानों के हालात, गेहूं केंद्र पर लाइन में खड़े किसान की मौत

6/1/2020 2:18:15 PM

देवास(एहतेशाम कुरेशी): मध्य प्रदेश के देवास जिले में गेहूं केंद्र पर लाइन में खड़े किसान की मौत हो गई। बताया जा रहा है कि किसान की मौत हार्ट अटैक से हुई है। किसान की मौत के बाद जिले में हड़कंप मच गया है। सूचना के बाद एक्टिव हुए देवास के एसडीएम प्रदीप सोलंकी ने बताया, 'डॉक्टर के अनुसार दिल का दौरा पड़ने से किसान की मौत हुई है। अभी पंचनामा जारी है। यह बहुत ही दुखद है।'

PunjabKesari

बताया जा रहा है,कि देवास जिले के ही टौंकखुर्द के अमोना गांव के रहने वाले 65 वर्षीय किसान जयराम मंडलोई 30 मई को अपनी उपज को बेचने के लिए देवास आये थे, कल यानी 31 मई की रात को अचानक सीने में दर्द और घबराहट के चलते उनकी मौत हो गई। मृतक किसान के शव का पोस्टमार्टम जिला अस्पताल में किया गया। SDM प्रदीप कुमार सोनी ने उपार्जन केन्द्रों पर सुविधाएं और बेहतर करवाने का आश्वासन देने के साथ ही मृतक किसान को कृषक कल्याण योजना के तहत 4 लाख रूपये शासन की ओर से दिए जाने की बात कही । 

PunjabKesari

उधर मप्र शासन के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने आगर मालवा में पिछले दिनों किसान प्रेम सिंह और अब देवास में लाईन में लगे किसान जयराम मंडलोई की मौत को लेकर प्रदेश सरकार को जमकर आड़े हाथों लिया। साथ ही देवास के शहर कांग्रेस अध्यक्ष मनोज राजानी ने भी प्रदेश सरकार पर निशाना साधते हुए दोनों किसानो की मौत के लिए मप्र शासन को ज़िम्मेदार ठहराते हुए मांग की कि उपार्जन केन्द्रों पर व्यवस्थाए सुधारी जाए । साथ ही मृतक किसानों को सरकार की ओर से 50 लाख रूपये की राशि की मदद देने की मांग भी की । 


 


Edited By

meena

Related News