एक गलती सब पर पड़ी भारी, सात फेरों की जगह दूल्हे को थाने में बितानी पड़ी रात, बेैरंग लौटी बारात

5/11/2021 8:55:48 AM

आगर मालवा: कोरोना संक्रमण के बीच एक दूल्हे को शादी कराना महंगा पड़ गया जहां लापरवाही के चलते उसे अपने परिजनों समेत रात थाने में बितानी पड़ी। इतना ही नहीं बारात भी बिना दुल्हन के लौटी। दरअसल कोरोना संक्रमण के चलते शादी समारोह में भीड़ जमा करने पर रोक है। लेकिन आगर मालवा में दूल्हे व परिजनों ने कोरोना गाइडलाइन का उल्लघंन कर भीड़ जुटाई जिसके चलते पुलिस ने शादी रुकवा दी।

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक, आगर मालवा के गांव लसुल्डीया केलवा में एक शादी समारोह शादी का आयोजन हो रहा था। नलखेड़ा पुलिस को इसकी सूचना मिली तो वे शादी स्थल पर पहुंच गई। उस समय वहां भीड़ जमा थी और शादी की रस्में चल रहीं थी। पुलिस ने कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने पर कचनारिया गांव निवासी दूल्हे मनोहर और उसके पिता शंकरलाल सेन के साथ ही दुल्हन के पिता तोलाराम सेन को भी थाने को हिरासत में लिया। पुलिस ने लड़का-लड़की के परिजनों के खिलाफ धारा 188 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। जिसके चलते दूल्हे को सात फेरे लेने की बजाय पूरी रात थाने में गुजारनी पड़ी। वहीं बारात को भी दुल्हन के बिना लौटना पड़ा।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static