तस्वीर सब कुछ बोलती है... अस्पताल में लेट पहुंचे डॉक्टर साहब तो नतमस्तक हो गए सांसद

9/26/2021 5:20:34 PM

राजगढ़(सुनील सरावत): औचक निरिक्षण के दौरान यदि कोई अधिकारी या कर्मचारी लेट आता पकड़ा दिखता है तो समझो उसको फटकार लगने के साथ साथ सजा मिलना तय है। लेकिन शनिवार को राजगढ़ में एक डॉक्टर को लेट आने की ऐसी सजा मिली जो सबसे हटकर थी। जैसे ही डॉक्टर साहब लेट पहुंचे तो सांसद जी ने मुस्कराते हुए उनके आगे झुक गए और प्रणाम किया और बिना कुछ कहे वहां से चुपचाप चले गए।

PunjabKesari

कहने को तो सरकारी अस्पतालों में हर सुविधा देने का दावा किया जाता है लेकिन स्वास्थ्य अधिकारी और कर्मचारी अक्सर गायब रहते हैं या लेट पहुंचते हैं। ऐसा ही कुछ देखने को मिला राजगढ़ के जिला अस्पताल में यहां सांसद रोडमल नागर पंडित दीनदयाल की जयंती के अवसर पर पचोर अस्पताल में मरीजों को फल वितरण करने के लिए पहुंचे थे। फल वितरण के बाद जब 10.25 बजे सांसद अस्पताल से निकलने लगे तो उन्हें बाहर ड्यूटी पर आते हुए पहले डॉक्टर नजर आए जिन्हें सांसद नागर ने प्रणाम किया और बिना बोले ही अगले कार्यक्रम के लिए अस्पताल से रवाना हो गए।

PunjabKesari

सांसद रोडमल नागर पचोर अस्पताल में करीब 10 बजे पहुंचे थे। लेकिन अस्पताल में कोई भी डॉक्टर मौजूद नहीं था। तय कार्यक्रम के अनुसार सांसद नागर ने मरीजों को फल वितरित किए और करीब 10.25 पर अस्पताल से निकल रवाना ही हो रहे थे कि तभी अस्पताल के गेट पर डॉक्टर धर्मराज पच्चीसिया उन्हें मिल गए। पच्चीसिया पहले डॉक्टर थे जो अस्पताल आ रहे थे। जैसे ही डॉक्टर पच्चीसिया ने सांसद नागर को देखा तो वे हक्के बक्के रह गए और अभिवादन करने लगे इसी वक्त सासंद गांधीवादी तरीके से अपनी नाराजगी जताते हुए डॉक्टर के सामने हाथ जोड़ लिए और उन्हें प्रणाम करते हुए बिना कुछ बोले ही अस्पताल से रवाना हो गए।

डेढ़ घंटा लेट पहुंचे थे डॉक्टर साहब
अस्पताल की ओपीडी शुरु होने का समय सुबह 9 बजे है और सांसद वहां करीब 10 बजे पहुंचे लेकिन डॉक्टर साहब ने तो हद ही कर दी। वे वहां साढ़े 10 बजे पहुंचे। इस हिसाब से वे करीब 1.30 घंटे लेट थे। वो भी ऐसे समय में जब खुद सांसद अस्पताल दौरे पर हों। हालांकि डॉक्टर पचीसिया को अस्पताल में देरी से पहुंचना महंगा पड़ गया और शाम को हटा दिया गया।


सबसे ज्यादा पढ़े गए

Content Writer

meena

Recommended News

static